Mekhraj bairwa

Mekhraj bairwa

आप यहाँ पर हर रोज कुछ नया सीखोगे

पढ़ाई में मन कैसे लगाए How to set your mind on studies

No comments :
how to concentrate our mind in study
पढ़ाई में मन कैसे लगाए
आप अच्छी पढ़ाई good study करना चाहते हो लेकिन आपका पढने में मन नहीं लगता और यह भी जरुरी है की अगर आप जीवन life  में एक अच्छे success full इन्सान बनना चाहते हो तो मन लगाकर पढना भी जरुरी है ! अगर में आपको मन के बारे में बताऊ तो सिम्पली मन एक मजा मारने की मशीन है क्योकि जहा पर जिस भी काम में मजा enjoy आ रहा होता है वहा पर इन्सान का मन लग जाता है लेकिन पढ़ाई में मन इसलिए नहीं लग पाता की आप को एक जगह पर बैठ कर Sitting in a place पढना पड़ेगा हो सकता है आपको mental pen हो सायद आपको जितना time तक पढना हो उस time तक अपने मोबाइल को दूर रखना पड़े हो Keep mobile away सकता है आपके अपने पसंदीदा खेल से भी आपको दूर रहना पड़े, पढ़ाई के लिए आपको अपनी girlfriend और boyfriend से time पर बात करना छोड़ना पड़ेगा यह भी होना तय है की आप अपना पसंदीदा सीरियल देखना चाहते है वो आप ना देख सको आपकी बोर्ड परीक्षा नजदीक है लेकिन cricket word cup चल रहा और आपको पढना जरुरी है लेकिन आपका मन पढ़ाई में ना लगकर कर cricket word cup देखने में लगेगा आप अंदर अपनी पढ़ाई कर रहे हो लेकिन बहार आपके दोस्त गप्पे लड़ा रहे है तो आपका मन पढ़ाई में  ना लगकर बहार दोस्तों की तरफ जायेगा और यह भी होना तय है की अगर आपके प्यार में धोड़ा सा भी धोका हो गया तो आप एक दिन की तो क्या बात आप महीनो तक नहीं पढ़ पाओगे लेकिन आज में आपको इन सभी से छुटकारा देने वाला हु और आज मेरा टोपिक है की पढ़ाई में मन कैसे लगाये बस आप इस पोस्ट को ध्यान से पढना  
पढ़ाई में मन कैसे लगाए [How to set your mind on studies]
निचे दिए गये बिन्दुयो का ध्यान से अध्यन करे में आपको 100% गारंटी से बताता हु आप आज के बाद अपनी पढ़ाई करना start  कर दोगे 
1.आपको यह पता होना चाहिए की आप क्यों पढ़ रहे हो You should know why you are studying 
जहा पर आप अपनी पढ़ाई करते हो वहा पर एक line लिखो की आप क्यों पढना चाहते हो इसकी वजह क्या है आप IPS बनना चाहते हो या अच्छी गाड़ी लेना चाहते हो या अच्छे business man बनना चाहते हो या फिर एक बड़ा doctor बनना चाहते हो या अच्छी पढ़ाई करके विदेश जाना चाहते हो या फिर आपको किसी लड़के या लड़की ने target किया हो की में आपसे शादी तभी करूँगा या करुँगी जब आप एक अच्छी पढ़ाई कर लोगे या फिर अच्छे marks लाना चाहते हो कुछ तो वजह होगी जिससे की आप पढ़ाई करना चाहते हो उस वजह को आप हमेशा अपने सामने रखे जिससे की आपको अपनी पढ़ाई की वजह पता लगे आपका पढ़ाई से ध्यान हटेगा ही नहीं 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
7.अपने कोशल की पहचान कैसे करे 
2.mental pen को सहन करे इससे भागे नहीं Be tolerate the mental pen, don't run away from it
यह भी होना स्वभाविक है की आप जब भी पढ़ाई करने बैठोगे आपको mental pen होगा आपके सर में दर्द होगा आप थक जाओगे लेकिन आप इससे भागे नहीं इस दर्द को सहन करे और इस दर्द को सहन करने की आदत बनाये क्योकि आज आपको दर्द हो रहा है लेकिन आने वाले दिनों में उस खुसी के हक़दार भी तुम ही होगे जो आपको मिलने वाली है 
3.आप जिस भी Paragraph को पढ रहे हो उसे कठिन नहीं समजे  Do not understand any paragraph you are reading
आप जिस काम को जैसा समजते हो वो काम वैसा ही होता है आप उसे नार्मल समजते हो तो नार्मल हो जायेगा अगर आप hard समजते हो तो hard दिखेगा तो फिर क्यों नहीं में उस काम को हमेशा नार्मल ही समजू इसी प्रकार आप हमेशा जिस भी paragraph को पढ रहे हो उसको हमेशा नार्मल समजे और ऐसे सोचे की में तो इसे आसानी से याद कर लूँगा और जब कोई भी paragraph याद होगा तो आपका पढ़ाई में मन भी लगेगा  
4.शांत जगह पर बैठ कर पढ़ाई करे जहा पर किसी दुसरे इन्सान की आवाज ना पहुचे Study in a quiet place where no human voice can be reached
हम किसी काम को करते नहीं है लेकिन सामने वाला इम्प्रेसन हमें उस काम को करने पर मजबूर कर देता है आप पढ़ाई कर रहे हो आप वहा से जाना नहीं चाहते हो लेकिन आपके कानो में जो बार बार आवाज गूंज रही है वो आपको नहीं पढने देगी कुछ लोगो को मैंने देखा है की वो कानो में हैडफ़ोन headphone लगा कर पढ़ाई करते है वो क्या पढ पाते कुछ नहीं अगर आपको अपनी पढ़ाई में मन लगाना है तो आप बिल्कुल शांत कमरे में पढ़ाई करे 
5.किसी चीज को याद करने के लिए उसे टिप्स बनाकर याद करे Remember something by making it tips.
आज के ज़माने में तो पढ़ाई करने के काफी अलग अलग तरीके है अगर आप किसी भी paragraph को याद करना चाहते हो तो आप उसकी कुछ मजेदार टिप्स बना कर याद कर सकते है जैसे आपको ABCD का हर एक अक्षर याद करना है की कोनसे नम्बर पर कोनसा अक्षर आता है उसकी मजेदार पहेली बनाओ ताकि आपको पड़ने में मजा आये  
6.जिस वस्तु की आपको जरुरत ना हो उस वस्तु को अपने आस पास से हटादे Move the object around you which you do not need
जब हम अपनी पढ़ाई करने बैठते है तो हमारे आस पास पड़ी हुई कुछ चीजे  हमारा ध्यान अपनी तरफ खींचती है हालाकी हम जान बूजकर उन की तरफ नहीं जाना चाहते है जैसे आप पढ़ाई कर रहे लेकिन सामने मोबाइल पड़ा हुआ है वह आपको बुला रहा है देखो एक massage आया है है चैक करो आपके पास कोई सो रहा है तो आपको भी नींद आने लगेगी आप के आस पास कोई चोकलेट पड़ी है आपका मन करेगा की आप उसे खाए इसलिए आप के आश पास से फालतू की चीजो को हटा दे 
7.थोडा थोडा खाना काफी बार खाले लेकिन पूरा भर पेट खाना एक साथ खा कर पढने के लिए ना बैठे Eat a little food a few times, but do not sit to read after eating a full stomach meal.
एक साथ भर पेट खाना खा लेना स्वस्थ के लिए हानिकारक हो सकता है यह आपकी गलत सोच हो सकती है लेकिन आप थोडा थोडा खाना बार बार खाए तो आप अपने शरीर को तरोताजा महसूस करोगे जिससे आप अपनी पढ़ाई मन लगाकर कर सकते हो और अगर आप एक साथ बहुत ज्यादा खाना खाते हो तो आप सही से बैठ भी नहीं सकते क्योकि आलस्य दो कारणों से आता है एक तो अधिक खाना खा लेने से दूसरा आप उस काम को दिल से नहीं कर रहे हो ! इसलिए आप पढ़ाई में मन लगाने के लिए खाना कम कम खाए 
8.जो आपने एक बार पढ लिया उसका 7 दिन में एक बार रिविजन जरुर करे  Once you have read it, revise it once in 7 days.
इस बात को विज्ञानं भी साबित कर चूका है की जब आप किसी भी चीज को पढते हो उसको अगर 24 घंटे में रिविजन करते हो तो उसको हम 7 दिन तक याद कर सकते है अगर 7 दिन में फिर से रिवीजन करते हो उसको हम long time तक याद कर सकते है जब हम जो भी अध्यन कर रहे है वह हमें याद हो रहा है तो हमारा पढ़ाई में मन भी लगेगा इसलिए हमें हर 7 दिन में पढ़ाई का रिवीजन कर लेना चाहिए  
9.सुबह 10 से 15 मिनिट कसरत Exercise जरुर करे Morning 10 to 15 minutes workout must exercise 
में आपसे बात कर रहा हु मात्र 10 से 15 मिनिट की जबकि बात करते है अक्षय कुमार या विराट कोहली वो सुबह 4 घंटे से अधिक कसरत करते है ताकि वो पुरे दिन अपने काम में active रह सके यहाँ में आपको एक student होने के नाते बताना चाहूँगा की आप 10 से 15 मिनिट हर रोज कसरत जरुर करे ताकि आप पढ़ाई में मन लगा सके इसके लिए आपको किसी जिम या किसी गार्डन में जाने की जरूरत नहीं है आप अपने घर पर भी यह काम कर सकते है 
10.दिन में एक बार ध्यान meditation जरुर करे Do meditation once a day
इस बात को साधू संत भी साबित कर चुके है की ध्यान लगाने में बहुत शक्ति है आप अगर दिन में 10 से 15 मिनिट ध्यान meditation करते हो तो आप की याद करने की शक्ति तेज हो जाती है अगर आप की याद करने की छमता अधिक है तो आपका मन भी लगेगा  
11.अपने शरीर को स्वस्थ रखे Keep your body healthy
किसी भी काम को करने के लिए सबसे पहले स्वस्थ रहना बहुत जरुरी है अगर आपका शरीर स्वस्थ है तो आप जो मर्जी काम कर सकते हो स्वस्थ शरीर तो स्वस्थ मन 
12.पढ़ाई करते समय डिजिटल उपकरण की मदद ले सकते हो You can take help of digital equipment while studying
आज का मानव हमेशा डिजिटल में अधिक विस्वास रखता है इसका सीधा उदाहरन आप ही हो जब आप  किसी मूवी को देखते है वो हमें उसी तरह याद हो जाती है अगर हम किसी book में अध्यन करते है तो वह याद नहीं होता है क्योकि हमारा दिमाक video को बहुत जल्दी रिकोर्ड करता है इसलिए आप पढ़ाई करते समय डिजिटल उपकरण का उपयोग कर सकते है 
13.important और urgent में अंतर को समजे  understand the difference between important and urgent
मानव जीवन एक चुनोतियो से भरा होता है आपको हर कदम पर हर तरह की चुनोती मिल जाएगी जबकि इन्सान हमेशा free बैठा हो उस time भी उसको लगता है की वह बहुत busy है लेकिन उसको यह पता नहीं है की उसको कोनसा काम अभी करना चाहिए और कोनसा काम बाद में करना चाहिए इस अंतर को समजना जिन्दगी में बहुत जरुरी है !! हो सकता है आपका कोई बहुत urjent काम हो लेकिन वह importent नहीं है तो आप उसे छोड़ सकते हो   
14.दिन में आप जितने भी लोगो से  मिलते हो उनसे सिर्फ पढ़ाई के बारे में ही बात करे  Only talk to all the people you meet in the day about studies
अगर आप जितने भी लोगो से मिलते हो उन सभी से आप बस पढ़ाई की ही बात करे ताकि आप भी अच्छी पढ़ाई कर सके और वो लोग भी आपको पढ़ाई के लिए अग्रेसिव कर सके 
15.खुद अनुसासन में रहे  Be yourself in research
हमेशा जीवन में जैसा विचार आप रखते हो उसका असर हमारे मन पर गिरता है और मन जैसा है उसका असर तन पर गिरता है और तन और मन का असर जीवन पर गिरता है इसलिए आप हमेशा खुद अनुसासन में रहे ताकि आप किसी भी काम मै मन लगा सके 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 

दोस्तों यह पोस्ट पढ़ाई में मन कैसे लगाए How to set your mind on studies आपको बहुत पसंद आएगी और इसको आप अपने दोस्तों को जरुर share  करे 

मेरी जिन्दगी में अनेको समस्याए है मै उनका सामना कैसे करू

1 comment :
एक लम्बी जिन्दगी long life में समस्या problem आना आम बात है लेकिन उन समस्यायों का समाधान solution करना खाश बात है समस्या इसलिए नहीं आती की आपकी सफलता success को रोका जाये नहीं समस्या इसलिए आती है की आप अपनी सफलता के पीछे और मजबूती strong  से भागे  भगवान श्री कृष्ण कहते है की अगर मनुष्य का सबसे बड़ा मित्र कोई है तो वह है उसकी समस्या !!!वो सिर्फ इसलिए की जब किसी भी बात को लेकर मनुष्य आवश्यकता से अधिक खुश happy  रहता है तो समस्या आकर उसे रोकती है ! और जब मनुष्य अपने दुःख sad में होता है तो समस्या छोड़ कर चली जाती है ! लेकिन अगर इन्सान जब ख़ुशी और समस्या में नार्मल रहता है तो वह इन्सान जरुर सफलता की और बढता है ! इस दुनिया में एक भी ताला lock ऐसा नहीं बना जिसकी कोई चाबी key नहीं बनी हो इसी तरह इस दुनिया में एक भी समस्या एसी नहीं बनी जिसका कोई समाधान solution नहीं हो क्योकि मंजिल चाहे कितनी भी उची हो रास्ता हमेशा पैरो के निचे से ही होता है 
life problem solution in hindi-problem solution tips in hindi
problem solving skill in hindi
एक बार आप अपनी तरफ देखिये आप कोनसी समस्या से घिरे हुए हो 
1-क्या आपका रंग अच्छा नहीं है Don't you have a good color
2-क्या आप सुंदर नही हो Aren't You Beautiful
3-क्या आपके पास अच्छा घर नहीं है Don't you have a nice house
4-क्या आपका life पार्टनर सुंदर नहीं है Isn't your life partner beautiful
5-क्या आपकी आँखे सुंदर नहीं है Aren't Your Eyes Beautiful
6- क्या आपका बेटा आपकी नहीं सुनता है आपका बेटा पढने में अच्छा नहीं है Doesn't your son listen to you your son is not good at reading
7-क्या आपको 5 star होटल में खाना नहीं मिलता Don't you get food in a 5 star hotel
8-क्या आपके हाथ पैर नहीं है Don't you have legs
9-क्या आप के पास पढने के लिए पैसा नहीं है Don't you have money to study
10-क्या आपके सिर के बाल अच्छे नहीं है Don't you have nice hair
सोचो एक बार कोनसी समस्या है जो आपको परेशान कर रही है 
# दुनिया में कितने लोग ऐसे है जिनका रंग अच्छा नहीं है देख लीजिये आप सिक्स्सर किंग क्रिस गेल को उनका रंग अच्छा नहीं है लेकिन दुनिया में एक अलग ही पहचान है 
# अगर आप सुंदर नहीं है तो एक बार देख लीजिये भारतीय मिसाइल मैंन Dr. A.P.J अब्दुल कलाम को जो सकल से बिल्कुल सुंदर नहीं है लेकिन इतिहाश के पन्नो पर अपना नाम रोशन किया साथ में भारत को एक मिशाइल पेश की 
# में मानता हु आपके पास अच्छा घर house  नहीं आप दुखी हो लेकिन क्या आपको पता है कितने लोग ऐसे है जो अपनी जिन्दगी फुट पात पर बिता रहे है जिनको यह भी पता नहीं है मेरा अगला सुबह होगा या नहीं नाम सुना होगा महाराणा प्रताप का जिन्होंने काफी दिन तक घाष फूस खा कर जंगल forest में रहे थे उनके पास कोई घर नहीं था फिर भी दुश्मन से हमेशा लड़ते रहे 
# आपका life पार्टनर सुंदर नहीं है आपको अच्छा नहीं लगा लेकिन अपनी अंतर आत्मा Conscience से एक बार उन लोगो को देखो जिनके अच्छे पति और पत्नी होने के बावजूद तलाक Divorce हो जाते है उन्होंने अपने दर्द pen को कैसे सहन किया होगा और ना जाने कितने लोग ऐसे है इस दुनिया में जो शादी wedding के लिए तरसते ही रह गये आपका सुन्दर नहीं है तो क्या हो गया 
# आप जैसे चाहते हो वैसे आपकी आँख नहीं है आप सही से काजल नहीं लगा सकते आप सही से आइनर उपयोग नहीं कर सकते इसी कारन आप बहुत ज्यादा दुखी है क्या आपने प्रख्यात लेखक वेद प्रकाश मेहता का नाम सुना है जिनके बिल्कुल आँखे ही नहीं थी उसके बाव जुद भी लेखक writer  बने बताओ आपको क्या दुःख है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
7.अपने कोशल की पहचान कैसे करे 
# आपका बेटा आपकी नहीं सुनता आपका बेटा पढने में अच्छा नहीं है लेकिन आपको पता है कितने लोग ऐसे है जिनको कभी भी पुत्र sun  रतन की प्राप्ती ही नहीं हुई आप ने सूना होगा गुरु गोविन्द सिंह जिसके चारो बेटो की बली उसकी आँखों के सामना हो गई आपको कोनसा दुःख है कम से कम आपका बेटा आपकी आँखों के सामने है तो सही 
# आप चाहते हो की आप 5 star होटल में खाना खाए लेकिन आपने उनको देखा है जो एक वक्त की रोटी के One time bread लिए आपके ही आगे हाथ जोड़ते हुए नजर आते है अगर आप ने उन लोगो को ध्यान से देखा होता तो सायद ही आप इस बात से दुखी होते की आप को 5 star में खाना नहीं मिलता 
# हो सकता है कुदरती आपके हाथ पैर नहीं No feet है और आपको लग रहा है आप कुछ नहीं कर सकते लेकिन जरा उस प्रख्यात निर्त्यनगनी सुधा चंद्रन जिसके दोनों पैर नहीं थे और वो निर्त्य करने वाली बनी कैसे ?
# एक बहुत बड़ा दुःख पैसो का आप मानते हो आप के पास पैसा नहीं है लेकिन कितने लोग एसे है जिनके पास पैसा नहीं था फिर भी आज वो सफल है कोनसा दुःख है आपको बताये भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जिनके पास भी पढने के लिए पैसा नहीं था इसलिए चाय बेचते थे आज क्या है! क्या हो गया आपके पास पैसा नहीं है तो 
# आपके सिर के बाल अच्छे नहीं है लेकिन आप उन लोगो को भी जानते हो जिन के सर पर बाल नहीं होने पर भी उन्होंने अपने आप को बहुत सुंदरा समजा आज वो हीरो भी है कोनसा दुःख है बताईये 
मेरी जिन्दगी में अनेको समस्याए है मै उनका सामना कैसे करू 
1.बहाना बनाना छोड़े  Quit cooking
इस दुनिया की सबसे बड़ी बीमारी का नाम है बहाना बनाना आप जिस दिन बहाना बनाना छोड़ देंगे आपकी समस्या का समाधान अपने आप होता चले जायेगा आप कभी भी कोई बहाना ना मारे ध्यान रखना अगर आज आप बहाना मारते रहे तो एक दिन आपकी आने वाली जनरेसन आपको बहाना मारती रहेगी वह आपकी कुछ नहीं सुनेगी इसलिए अच्छा है आप आज ही बहाना बनाना छोड़ दे 
2.समस्या को प्रतिकिर्या देने के बजाय उसका समाधान करे Resolve the problem instead of responding to it
आपके सामने कोई भी समस्या है आप उस समस्या को प्रतिकिर्या ना दे उसको समस्या ना बोले उसका समाधान करे 
जैसे:- आपके घर पर एक कुत्ता आगया आप जोर से चिल्लाने लगे कुत्ता कुत्ता और वह कुत्ता फिर किसी दुसरे के घर में घुस गया वह भी चिल्लाने लगा कुत्ता आगया कुत्ता आगया फिर वह कुत्ता वहा से भागकर किसी तीसरे के घर में घुस गया उसने उस कुत्ते के पीछे एक डंडा लेकर और उसको गाँव के बहार भगा दिया 
आप ध्यान से समजना पहला और दूसरा कुत्ते को प्रतिकिर्या दे रहे थे लेकिन तीसरे ने उसका समाधान किया 
3.उस इन्सान को देखो जिसके पास आपसे भी बड़ी समस्या हो Look at the person who has a bigger problem than you
अगर आपके पास कोई भी समस्या है उस time आप यह देखो की क्या कोई ऐसा इन्सान है जिसके पास आप से भी बड़ी समस्या हो आप उस इन्सान से जाकर मिले आपको जरुर वहा से सहायता मिलेगी 
4.हमेशा सकारात्मक सोचे Always think positively
हमेशा सकारात्मक सोचना भी एक समस्या को दूर करने का तरीका है जैसे:- आपके सामने समस्या है की आप एक परीक्षा में फ़ैल हो गये लेकिन अगर आप सकारात्मक सोचते है तो आपके पास अन्य student से 2 साल का experience अधिक है आप आने वाली परीक्षा में उनसे अधिक अंक ला सकते है यह आपका प्लस point है 
5.अपनी समस्या को दुसरे की समस्या समज कर हल करो Solve your problem by solving another problem 
काफी बार यह होता है की जब किसी दुसरे इन्सान पर समस्या आई होती है तो हम उसको solution देने पहुच जाते है इसी तरह अगर जब हमारे ऊपर समस्या आई है तो उसको एक बार दुसरे की समस्या समजे और solution दे आप समस्या से निकल सकते हो 
6.समस्या आने पर एक दुसरे पर बोलने के बजाय एक दुसरे से बोलना शुरू करो After the problem, start speaking with each other instead of speaking to each other.
आपके सामने समस्या है और आप दुसरो को उस समस्या का जिम्मेदार बना रहे हो तो यह गलत है आप दुसरो पर थोपने के बजाये आप दुसरो से उस समस्या के बारे में बोले आप को solution मिलेगा 
7.समस्या क्यों उत्पन हुई उसका कारण जानने की कोशिश करे Try to find out the reason why the problem occurred 
अगर आप किसी समस्या में उलझे हुए है तो आप उस समस्या का यह कारण जानने की कोशिश करे की आखिर यह समस्या पैदा क्यों हुई क्योकि समस्या वह नहीं है जो आपको दीख रही है समस्या वह है जिसकी वजह से समस्या पैदा हुई थी उसको समजना है और उसी का समाधान करना है आपकी समस्या का समाधान हो जायेगा क्योकि दिखने वाली चीजो को सुधारने के लिए नहीं दिखने वाली चीजो को सुधारना पड़ेगा उसके बाद दिखने वाली चीजे अपने आप सुधर जाती है 
8.समस्या से आये हुए इमोसंस को दूर करे Remove emosons from the problem
जब समस्या आती है तो इमोसंस आना आम बात हो जाती है लेकिन ध्यान रखना इमोशंस हमेशा समस्या को बढाता है न की घटाता आप हमेशा इमोशंस से दूर रहे आप विस्वास रखे की आपकी समस्या का समाधान हो जायेगा 
9.समस्या आने पर हाथ पर हाथ रख कर नहीं बैठे Don't sit with your hands on the problem 
समस्या आने पर हाथ पर हाथ रख कर नहीं बैठे आप जितना हो सके उतना लोगो से मिले कभी भी घर पर बैठने से समस्या का समाधान नहीं हो सकता है आपकी समस्या का समाधान लोगो से मिलने से ही होगा 
10.समस्या आने पर अकेले में थोडा आराम करे और उसके बारे में गहरा चिंतन करे When the problem comes, rest a little alone and think deeply about it.
काफी बार ऐसा होता है की समस्या का समाधान होने को होता है लेकिन वहा तक हम पहुच नहीं पाते इसलिए जब भी कोई समस्या आपके  सामने आये और आप उसका समाधान नहीं कर  पा रहे है उस time पर आप अकेले एक कमरे में जाईये और थोडा आराम करे और उसके बाद उस समस्या पर चिंतन करे आपकी समस्या का हल हो जायेगा 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 
दोस्तों उमीद करता हु इस पोस्ट का अध्यन करने के बाद आप की जितनी भी समस्या है वह अपने आप शोल हो जाएगी या आप अपनी समस्या का समाधान करना शीख गये 



चरित्र क्या होता है अपना अच्छा चरित्र कैसे बनाये

2 comments :
मुन्सी प्रेमचंद जी कहते है की जिस इन्सान में दया नहीं धरम नहीं निज  भासा से प्रेम नहीं आत्म बल नहीं तो उसमे चरित्र भी नहीं है और बिना चरित्र का आदमी कोई आदमी नहीं होता है 
चरित्र का इन्सान की जिन्दगी में बहुत महत्व होता है आप चाहे गरीब हो अमीर हो सफल हो या असफल हो दुःख में या सुख में हो रोगी हो या निरोगी हो इन सभी में कही न कही आपके चरित्र का योगदान जरुर होगा 
जिस इन्सान में आत्म नियंत्रण, विश्वनियता, कार्य और वचन में मजबूती, कर्तव्य निष्ठता, आत्मा की शुध्ती, जिम्मेदारी की भावना, यह सब गुण होते है वह चरित्र वान व्यक्ति होता है कोई भी इन्सान अपने चरित्र को नहीं छुपा सकता क्योकि उसका काम करने का तरीका वैसा ही होगा जैसा उसका चरित्र है 
चरित्र किसी भी इन्सान में परम्परागत लक्षण नहीं होते है यह अपने आप स्वत: अध्यन से निर्मित होते है  
चरित्र वह शक्ति होती है जो अभेद दीवारों से भी रास्ता बनाने की ताकत रखती है 
मनुष्य के चरित्र को पहचानने के लिए उसके साथ बैठने उठने की जरुरत नहीं है उसकी बातो से भी उसके चरित्र को पहचाना जा सकता है 
अब सीखते है अपना अच्छा चरित्र कैसे बनाये 
अपना अच्छा चरित्र का निर्माण कैसे करे How to build your good character
अपने अच्छे चरित्र के निर्माण के लिए निचे दिए गये बिन्दुओ का ध्यान से अध्यन करे 
1.विचारो में सुधता रखे 
महात्मा गाँधी जी बोलते थे की जो इन्सान चरित्र character के बजाय महानता को कपड़ो से आंकते है वह सर्वथा मुर्ख होते है !!! क्योकि महान इन्सान चरित्र character से बनता है ना की कपड़ो से और चरित्र बनता है अच्छे विचारो idea से आप के  विचार अच्छे है तो आपका चरित्र character भी अच्छा है इसलिए अपना अच्छा चरित्र character बनाने के लिए हमेशा शुद्ध विचार idea  रखे 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
7.अपने कोशल की पहचान कैसे करे 
2.अच्छे मित्र बनाये 
यह कहावत बहुत पुराना है ...... जैसा आपका मित्र वैसा आपका चरित्र Your character like your friend  लेकिन सही भी है क्योकि इन्सान अधिकतर वही काम करता है जो पहले कही देख लेता है अब आप देखोगे वही जैसा आपके मित्र करते है अगर आपके मित्र अच्छे है तो आप भी अच्छे है इसलिए हमेशा अच्छे मित्र बनाये ताकि आपका अच्छा चरित्र बन सके 
3.हमेशा अच्छाई को देखे बुराई को नहीं देखे 
हमेशा बुराई को देखने वाला इन्सान उस मक्खी की तरह होता है जो इतने खूब सूरत शरीर को छोड़ कर एक घाव पर जाकर बैठता है हमें किसी इन्सान में बुराई देखने का कोई अधिकार नहीं है हम सिर्फ उस इन्सान में अच्छाई देख सकते है आचार्य चाणक्य हमेशा एक बोलते है की अगर चरित्र की शिक्षा एक घटिया इन्सान से भी मिले तो ले लेनी चाहिए 
4.धार्मिक स्थानों पर आवागमन रखे 
धार्मिक स्थान religious place वह होता है जहा पर हमेशा मानव जीवन के मूल्य को समजा जाता है यहाँ पर धार्मिक स्थान से मतलब किसी साधू संत की कुटिया से नहीं है धार्मिक स्थान से मतलब है जहा जाने से स्वत: ही मानव जीवन के मूल्य का पता लग जाये जहा पर मानव सम्मान की बात की जाये 
अगर आप एसी जगह पर जाते हो तो आपका चरित्र अच्छा बनेगा 
5.सामाजिक कार्यो में योगदान दे 
जो इन्सान अपनी समाज का नहीं हो सकता वह किसी का भी नहीं हो सकता A person who cannot belong to his society cannot belong to anyone. आप जितना काम अपनी मानव समाज के लिए करोगे उतना ही आपका चरित्र अच्छा होगा मानव समाज के लिए काम करने वाला इन्सान कभी गलत हो ही नहीं सकता 
6.देश हित की भावना रखे 
इस दुनिया में कुछ ही लोग ऐसे होंगे जिनकी रगों में वतन के नाम का रक्त नहीं बहता हो और कुछ ही लोग ऐसे होंगे जिनकी सांसो पर वतन का अधिकार ना हो ऐसे लोग हमेशा चरित्र हीन होते है 
आपकी हर एक साँस पर वतन का अधिकार है आपकी हर एक रक्त की बूंद पर वतन का अधिकार है आप हमेशा देश हित में भावना रखे 
7.धार्मिक ग्रन्थ पढना ना भूले 
धार्मिक ग्रन्थ का अध्यन करने से भी मानव का चरित्र अच्छा होता है क्योकि धार्मिक ग्रन्थ हमेशा मानव जीवन के मूल्य को दर्शाते है इसलिए आप हमेशा धार्मिक ग्रंथो का अध्यन करते रहे  8.आलस्य से दूर रहे
आलस्य ही इन्सान के शरीर का सबसे बड़ा सत्रु होता है और चरित्र ही इन्सान का सबसे बड़ा साथी होता है अपने साथी से प्रेम रखने के लिए हमेशा अपने सत्रु को दूर रखे क्योकि जिस तरीके से मिटटी का बर्तन टूटकर चकना चूर हो जाता है उसके बाद उसकी कोई कीमत नहीं होती है उसी प्रकार मानव जीवन में से चरित्र का पतन हो जाने के बाद मानव जीवन का कोई मूल्य नहीं होता है  
9.अपनी जिम्मेदारियों को समजे 
जिस दिन आपको आपकी माँ नहीं आपको आपकी जिम्मेदारिय जगाने लग जाये उस दिन समजना की आप अपना घर चलाने लायक बन जाओगे अपनी जिम्मेदारियों को समजने वाला व्यक्ति कभी भी चरित्र हीन नहीं हो सकता 
10.अपना खुद का (-) point जानने की कोशिश करे 
अपनी जिन्दगी का (-) माइनस point जानना ही जिन्दगी का सबसे बड़ा (+) प्लस point है आप हमेशा अपनी गलतियों को पहचाने और अच्छे चरित्र का निर्माण करे 
11.उन बातो से दूर रहे जिनकी आपको आवश्यकता नहीं है
हमेशा आवश्यकता से अधिक चीज नुकसान दायक होती है चाहे वो आवश्यकता से अधिक खाना खाना आवश्यकता से अधिक सोना आवश्यकता से अधिक भूखा रहना हो आप हमेशा उन चीजो से दूर रहे जिनकी आपको आवश्यकता नहीं है  
12.दूसरे के अहसान को समजे 
अगर जिन्दगी में कभी आप पर किसी ने एहसान किया है तो आपका फर्ज बनता है उसके एहसान को समजने का आप उसके एहसान को समजे और अच्छे चरित्र का बखान करे 
13.हार की जिम्मेदारी खुद ले और जीत का श्रे अपने साथियों को दे 
हार की जिम्मेदारी खुद ले और जीतने का श्रे अपने साथियों को दे ऐसे इन्सान इस दुनिया में कम ही पाए जाते है अगर कोई ऐसा है तो वह बहुत ही चरित्र वान व्यक्ति है इसका एक जीवित उदाहरन बताता हु आपको.....
भारत के सबसे सफल cricket कप्तान mahendra singh dhoni जो हमेशा हार की जिम्मेदारी खुद लेले ते है और जीत का श्रे हमेशा अपने साथियों को देते है इसलिए इनकी छबी आजा पूरा विश्व जानता है 
14.कम बोले 
चरित्र की पहचान हमेशा अच्छे कपड़ो से नहीं होती है आपकी बोली से भी पता लगाया जा सकता है की आप चरित्र वान व्यक्ति हो या चरित्र हीन व्यक्ति हो आप हमेशा कम बोले 
15.जीवन में मानवता का महत्व समजे 
आप अगर मानवता का महत्व समज सकते हो तो आप मानवता को महत्व दे भी सकते हो आप हमेशा नर सेवा और नारायण सेवा की भावना का प्रचार प्रसार करे यही आपका चरित्र है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 
दोस्तों यह पोस्ट चरित्र क्या होता है अपना अच्छा चरित्र कैसे बनाये बहुत महनत से लिखी गयी है और में उम्मीद करता हु की आप को अच्छी समज भी आई है    
इस पोस्ट को अपने दोस्तों को जरुर share करे 
धन्यवाद जी 

डिसीजन क्या होता है और सही डिसीजन कैसे ले

1 comment :
आज हम चाहे कैसे भी है अमीर Rich  है गरीब Poor  है या सफल Successful है या असफल Failed है यह सब पिछले past में लिए गये decision का ही परिणाम है कुछ निर्णय decision ऐसे होते है जिनसे हमारा आने वाला भविष्य future ही बदल जाता है मतलब हम सफल हो जाते है और कुछ निर्णय decision ऐसे होते है जिनसे हमारा future बर्बाद हो जाता है 
यदि आप अमीर Rich  आदमी है तो जरुर आपने कोई न कोई past में एक ऐसा decision लिया होगा जिससे आप आज अमीर Rich हो 
यदि आप गरीब Poor आदमी है तो जरुर आपने कोई न कोई past में एक ऐसा decision लिया होगा जिससे आप आज गरीब Poor हो 
यदि आप सफल Successful आदमी है तो जरुर आपने कोई न कोई past में एक ऐसा decision लिया होगा जिससे आप आज सफल Successful हो
यदि आप असफल Failed आदमी है तो जरुर आपने कोई न कोई past में एक ऐसा decision लिया होगा जिससे आप आज असफल Failed हो
कोई भी इन्सान past में लिए गये फैसले को नहीं बदल सकता क्योकि कोई भी past में नहीं जा सकता लेकिन आप आज एक अच्छा decision लेकर अपने future को जरुर बदल सकते है इन सभी बातो से एक रहस्य सामने आता है की decision चाहे छोटा हो या बड़ा decision आपकी life को बदलता है 
में अपना सही decision कैसे ले सकता हु How can i make my right decision 
दोस्तों आप आज अपना सही डिसीजन लेना शीखोगे क्योकि आज का लिया हुआ आपका डिसीजन आपका future तय करेगा अगर अब डिसीजन सही लेना शीख लिया तो आपका future बहुत ब्राइट होने वाला है अपना सही डिसीजन लेने के लिए निचे दिए गये पॉइंट को ध्यान से समजे 
1-डिसीजन लेते समय अपने दिल और दिमाग की सुने 
यहाँ पर दिल का मतलब आपका अंतर्मन से है आपकी अंतरात्मा से है और दिमाग का मतलब आपकी बुद्दी से है जब आप अपने भविष्य का निर्णय करते हो उस समय आपका मन क्या बोलता है और आपकी बुद्दी क्या बोलती है इन दोनों का सयोंग ही आपका डिसीजन होना चाहिए
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले  
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
7.अपने कोशल की पहचान कैसे करे 
2-डिसीजन लेते समय अपनी खुद की update जरुर रखे 
यहाँ पर खुद की update से मतलब है आपका background जिस वक्त आप अपने डिसीजन का चुनाव करते हो उस वक्त आपको यह भी याद होना चाहिए की आपका background कैसा है इसको एक अच्छे उदाहरन से समजते है 
आपने अभी 10 वी class पास की है उसमे 40% marks आये है और अभी आपको 11 वी class के लिए डिसीजन लेना है और आपको subject का भी चुनाव करना है और school का भी चुनाव करना है इसमें आपको अपना background देखना यह है की आप science लेना चाहते हो लेकिन science में 10 वी class में आपके मात्र 40% ही marks आये यह चीज भी देखनी है और आपकी घर की आर्थिक स्थिति कैसी है तब जाकर आप एक अच्छे school का डिसीजन कर सकते हो इसलिए डिसीजन लेते समय अपने background को जरुर देखे 
3-अधिक ख़ुशी होने पर कोई डिसीजन का चुनाव नहीं करे
यहाँ पर ख़ुशी से मतलब अधिक Happiness से है क्योकि अधिक खुसी में लिया गया फैसला कभी भी निर्णायक नहीं होता है और अधिक भावुक Emotional स्थिति में उठाया गया कदम कभी भी सफलता का प्रतीक नहीं होता है अपने डिसीजन का चुनाव करते समय अधिक happiness और अधिक Emotional से बहार आये तभी जाकर अपने डिसीजन का चुनाव करे 
4-डिसीजन  लेते समय उन लोगो की नहीं सुने जो अपनी खुद की इच्छा आप पर थोपना चाहते है 
डिसीजन लेते समय विशेष ध्यान यह भी रखे की जब आप अपने भविष्य का चुनाव करते हो उस time लोगो की बातो पर ध्यान नहीं दे हो सकता है वो लोग अपनी खुद की इच्छा आप पर थोप रहे हो इसको एक अच्छे उदाहरन से समजते है 
आप एक doctor बनना चाहते हो और आपका परिवार चाहता है की आप एक अच्छे इंजिनियर बने आपकी sister चाहती है की आप एक business man बने लेकिन आपकी इच्छा नहीं है इंजिनियर और business man बनने की और आप बन भी नहीं सकते इसलिए आप वही काम करे जिसमे आपकी इच्छा हो लोगो की इच्छा पर ध्यान मत दो 
5-डिसीजन लेते समय बिल्कुल भी जल्द बाजी नहीं करे आपकी जिन्दगी का सवाल है 
डिसीजन लेते समय बिल्कुल भी जल्द बाजी नहीं करे हो सकता है जल्द बाजी में लिया गया फैसला गलत हो आप अपने भविष्य का चुनाव करते समय उचित समय ले 
6-डिसीजन लेने में अधिक समय भी नहीं लगाये
इस बात का भी विशेष ध्यान रखे की कोई भी निर्णय लेने में कोई समय भी नहीं लगाये यह भी नुकसान दायक हो सकता है जैसे की........
आप कोई भी डिसीजन लेना चाहते है और उसमे आपने उचित समय से अधिक time लगा दिया तो उस समय जब तक आप फैसला लेने वाले होंगे तब तक negative बाते होना start हो जाती है और वह  negative बाते हमें निराश कर देती है इस वजह से हम उस मोके को भी छोड़ देते है इसलिए डिसीजन लेने में अधिक time भी नहीं लगाये    
7-डिसीजन लेते समय अपनी भावनाओ पर नियंत्रण रखे
जब आम इन्सान अपने future के बारे में कोई निर्णय लेता है तो अन्दर से एक भावना उत्पन होती है में यह भी कर दूंगा में वह भी कर दूंगा क्योकि उस वक्त शायद उसको पता नहीं है की उसको करना क्या है इसलिए जब तक आप अपने डिसीजन का चुनाव नहीं कर लेते तब तक आप अपनी भावनाओ पर नियंत्रण रखे यह आपके लिए अच्छी बात है  
8-डिसीजन लेते समय अपने आप पर विस्वास रखे
जब सारी सूज बूज के साथ आपने डिसीजन लिया है तो आप उस पर विस्वास रखे की आपने सही रास्ता चुना है आप गलत नहीं हो जैसे....
आपने डिसीजन लिया की आपको अपनी study complete करने के बाद आप को doctor की तैयारी करनी है और आप doctor की तैयारी करने चले भी गये लेकिन आपका friend circle master की तैयारी करता है अभी आपको लगेगा की शायद में गलत हु और मेरे friend सही है जो master की तैयारी कर रहे है उस वक्त आप अपने आप पर विस्वास रखे की जो भी आपने डिसीजन लिया है वह सही है    
9-अपने डिसीजन में दूसरे का डिसीजन कभी भी कॉपी नहीं करे 
काफी बार क्या होता है की जब दूसरे लोग सफल हो जाते है तब हमें लगता है की वही काम हमें करना चाहिए हम भी सफल हो सकते है लेकिन यह भी गलत हो सकता है जानिए कैसे...........
जब आपके friend success  हुए थे उसी काम को आप करते हो और success हो जाते हो तो लोग आपको ताना देंगे और बोलेंगे आप सिर्फ हमारे कदमो पर चल कर सफल हुए हो 
दूसरी बात यह भी है की आप सिर्फ दूसरो की नजर में तो सफल हो सकते हो लेकिन अपनी खुद की नजर में आप असफल हो क्योकि आपको पता है आप दुसरो की राह पर चल कर सफल हुए है इसलिए आप कभी भी दूसरो का डिसीजन कॉपी नहीं करे 
10-बार बार अपने डिसीजन को बदलने के बारे में नहीं सोचे 
बार बार अपने डिसीजन को बदलना भी असफलता की जड़ हो सकती है सफल लोग हमेशा एक बात बोलते है की 10,10 फिट के 10 गड्डे खोदने के बजाये आप 100 फिट का एक ही गड्डा खोद लो पानी मिल जायेगा 
कहने का मतलब यह है की आप जो भी काम कर रहे हो उसी काम को regular करते रहे आपको सफलता मिलेगी जरुर अगर आप 1 साल एक काम को करने के बाद डिसीजन बदल कर दूसरा काम करते हो तो यह समजना आप उस काम को 0 से start कर रहे हो पिछला अनुभव आपको बिल्कुल भी काम नहीं आएगा इसलिए आप बार बार डिसीजन लेने से बचे 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान
दोस्तों यह पोस्ट डिसीजन क्या होता है और सही डिसीजन कैसे ले बहुत ही गहरे शोध से कल्पना करने के बाद आप तक पहुचाई है प्लीज आप एक बार फिर से इस पोस्ट का अध्यन करे और अपने दोस्तों को भी जरुर share करे ताकि वे भी अपना सही डिसीजन ले सके 

अपने कौशल की पहचान कैसे करे

1 comment :
कौशल हर व्यक्ति को भगवान का दिया हुआ गिफ्ट होता है जो हर इन्सान में अलग अलग तरीके का होता है कौशल को भगवान ने गिफ्ट तो कर दिया लेकिन कुछ ही लोग होते है जो उस कौशल की पहचान कर पाते है और कुछ लोग होते है जो भगवान के दिए हुए कौशल का भर पूर फायदा उठाते है और कुछ लोगो को दूसरो को याद दिलाने पर पता चलता है की उनके अंदर भी कौशल होता है 
identify-your-skills
skill

इसका पुख्ता सबूत रामायण में भी मिलता है जब भगवान राम माता सीता का पता लगाने के लिए जा रहे थे तो लंका पर चड़ाई करने के लिए समुन्द्र के किनारे सभी राम लक्ष्मण और देवता गन खड़े हुए थे और यह प्लान कर रहे थे की आखिर कोन जायेगा लंका में जो माता सीता का पता लगा के आ सके सभी चुप थे कोई कुछ भी नहीं बोल पा रहा था इतने में नल और नील बोले.............
कहे रीछ पति सुन हनुमाना कहे चुप सधी रहे बलवाना 
पवन तनय बल पवन समाना बुद्दी विवेक विज्ञानं निधाना 
हे हनुमान जी आप क्यों चुप बैठे हो आप तो बहुत बलवान हो आपमें पवन के जैसा बल है बुद्दी है आप हवा में भी उड़ सकते हो आपको जाना चाहिए तब जाकर याद आया था हनुमान जी को की उनमे भी कुछ कला है कौशल है !!! कौशल आम इन्सान में होता है बस उसको पहचानना बाकि है जो अब हम सीखेंगे 
अपने कौशल की पहचान कैसे करे 
1.किसी भी काम को करने से डरे नहीं 
दुनिया का हर काम मानव कर सकता है यह संभव है लेकिन भगवान सभी को बराबर बराबर दिमाग देता है कोई भी काम हो अगर और कोई उस काम को कर सकता है तो आप भी उस काम को जरुर कर सकते हो आपको डरना नहीं चाहिए बल्कि आपको यह सोचना चाहिए की में इस काम को आसानी से कर सकता हु ऐसा करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
2.मोके का हमेशा फायदा उठाये
अगर आपके पास मोका है यह साबित करने का की आपके अंदर भी कोई हुनर है तो आपको यह मोका नहीं गवाना चाहिए बल्कि इसका भरपूर फायदा लेना चाहिए आपको चाहे कही पर भी मोका मिले अपना हुनर दिखाने का तो आप अपना सारा हुनर निकाल कर पटक दो इससे आप के अंदर छुपे हुए कौशल की पहचान होगी  
3.किसी भी काम को सही तरीके से करे 
आप कोई भी काम कर रहे उस काम को आप अपना आखिरी काम समजे और उस काम को अपने दिल और दिमाग लगाकर करे और यह समजे की अगर यह काम सही हो गया तो यह काम मेरी पहचान करवाएगा लोगो के सामने और लोगो के भाव जो होंगे आपके प्रति उस काम को देखकर वही  से आपके कौशल की पहचान होती हुयी चली जाएगी   
जैसे आपकी बोर्ड exam है तो उस बोर्ड exam में आप सही तरीके से महनत करे जब आपका result आएगा वही आपकी पहचान बन जायेगा क्योकि आपने जिस तरीके से exam पास किया है वही आपका कौशल है 
4.रिस्क लेने से नहीं डरे 
जिन्दगी में हर काम रिस्क है खाना खाना भी रिस्क है कही पर जाना भी रिस्क है train में सफर करना भी रिस्क है होटल में खाना खाने में भी रिस्क है cricket match देखना भी रिस्क है हर काम में रिस्क है आप घर free बैठे है तो भी रिस्क है लेकिन उस रिस्क को कोई लेना नहीं चाहता अगर आप हर काम में हर जगह रिस्क लेना पसंद करते हो तो इससे आपका हुनर निकल कर सामने आता है 
5.सोचे कम और काम अधिक करे 
अगर आप free बैठ कर सोचने में अधिक time खर्च करते हो तो आपका जो भी कौशल है वह अंदर चला जायेगा लेकिन आप सोचने के बजाये उस काम को करने पर अधिक ध्यान देते हो तो आपका कौशल उस काम में एक नई पहचान करवा देगा कम सोचने और काम अधिक करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
6.आपके दुवारा किये गये सभी सफल कामो की सूची बनाये 
कई बार जब इन्सान यह भूल जाता है की वह भी उस काम को कर सकता है उस वक्त आप एक लिस्ट तैयार करे जिसमे उन सभी कामो को लिखे जो आपने अपने कौशल से सफल किये हो ऐसा करने से आपको अपने अंदर छुपे कौशल की पहचान होती है 
7.उस काम को याद करो जिसे आपने सफलता पूर्वक किया हो
अपने कौशल की पहचान करने के लिए आपको हमेशा अपने उन कामो को याद करना चाहिए जो आपने सफलता पूर्वक किये हो ऐसा करने से भी आपके अंदर छुपे कौशल का पता चलता है  
8.हमेशा रचनात्मक सोचे 
आपकी सोच अगर हमेशा ही रचनात्मक है जो कुछ ना कुछ रचना करना या हमेशा नया करने के बारे में सोचते हो तो आपकी की गयी रचना ही आपका असली कौशल है 
9.आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे 
हर इन्सान को अधिकार है अपने मन की सुनने का हर इन्सान को अधिकार है आत्मनिर्णय का आप भी अपने आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे और उसका फायदा उठाये 
जैसे एक बच्चा जो छोटे छोटे खिलोनो को खोल कर सुधारने की कोशिश करता है वह उसका आत्मनिर्णय है लेकिन बड़े होने पर उसको बोला जाये की आप को doctor की तैयारी करनी है अब उससे आत्मनिर्णय का अधिकार छीन लिया गया है अगर वह बचपन में छोटे छोटे खिलोने को सुधार सकता है तो वह बड़ा होकर बड़े साधनों को भी सुधार सकता है आपके आत्मनिर्णय का अधिकार आपके कौशल की पहचान कराता है  
10.परिस्थितियों के प्रति मानसिक प्रतिकिर्या दो 
इन्सान की जिन्दगी में परस्थितियो का दोर जरुर आता है उस समय या तो इन्सान खुद टूट जाता है या फिर रिकॉर्ड तोड़ देता है 
इस दुनिया में एक भी लॉक ऐसा नहीं बना जिसकी चाबी ना बनी हो इसी प्रकार इस दुनिया में एक भी समस्या एसी नहीं है जिनका कोई solution नहीं हो बस आपको करना आना चाहिए आपके पास दिमाग है तो कर सकते हो अगर आप अपनी परस्थितियो को दिमाग से खत्म करते हो तो यह आपका कौशल है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 

दोस्तों यह पोस्ट अपने कौशल की पहचान कैसे करे आपको अपने कौशल की पहचान करने में बहुत मदद करेगी 
दोस्तों इस पोस्ट को उन लोगो को share करो जो आपकी नजर में है और उनमे कोई न कोई कौशल है लेकिन वह पहचान नहीं पा रहे तो उनकी जिन्दगी में नई ख़ुशी ला सकते हो अभी करो share 
धन्यवाद जी 

मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है

No comments :
जिस तरीके से एक गाड़ी को चलाने के लिए पैट्रोल डीजल की आवश्यकता होती है उसी तरह इन्सान के जीवन को सुंदर बनाने के लिए एक मजबूत लक्ष्य की आवश्यकता होती है अगर आज हम जितने भी महान और सफल लोगो को याद करते है वो महान और सफल इसलिए बने क्योकि उन्होंने एक लक्ष्य को पाया उसके लिए उन्होंने जीतोड़ महनत की अगर आप आज भी बिना लक्ष्य के जिन्दगी जी रहे हो तो अब वो समय आगया है की आप को भी एक अपना लक्ष्य बना लेना चाहिए ताकि आपकी भी जिन्दगी नरक बनने से बच जाये 

अगर आपकी जिन्दगी में कोई लक्ष्य नहीं है तो आपकी जिन्दगी बिना पैट्रोल डीजल की गाड़ी जैसी है क्योकि गाड़ी चाहे कितनी भी सुंदर हो लेकिन वह बिना पैट्रोल डीजल के चल नहीं सकती हा आप धका देकर कुछ दुरी तक चला सकते है लेकिन एक दिन थक कर बैठ जाओगे इसी तरह आप बिना लक्ष्य के जिन्दगी जी रहे हो तो आप लोगो की नजर में तो सफल दिखोगे लेकिन आप अपनी नजर में सफल नहीं दिखोगे जबकि अच्छी जिन्दगी वही है जो अपनी खुद की नजर में सफल दिखे 
एक होता है जिन्दगी को काटना और एक होता है जिन्दगी जीना आपके ऊपर निर्भर करता है की आप जिन्दगी काटना चाहते हो या जिन्दगी जीना चाहते हो अगर आप जिन्दगी जीना चाहते हो तो ऐसे मत जिओ जैसे जिन्दगी आपको मिली हो बल्कि ऐसे जिओ जैसे जिन्दगी को आप मिले हो  जिस तरीके से एक घर बनाने के लिए एक योजना की आवश्यकता होती है उसी तरह जिन्दगी जीने के लिए एक लक्ष्य की आवश्यकता होती है 
मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है लक्ष्य के क्या फायदे है 
1.भले ही देर से सही लेकिन सफलता मिलती जरुर है 
अगर आप एक लक्ष्य बनाकर काम कर रहे है तो आपको सफलता भी जरुर मिलेगी भले ही देर से सही इसको हम एक अच्छे उदाहरन से समजते है एक बार एक इन्सान होता है उस इन्सान के घर के सामने वाले  घर में एक गधा रहता था उस आदमी का target था की जब तक वह उस गधे को नहीं देख लेता तब तक वह खाना नहीं खाता चाहे कुछ भी हो यह target उसके लिए असम्भव तो नहीं था लेकिन लोग मजाक जरुर उड़ाते थे चलो जो भी है 
कुछ दिन बाद की बात है की गधे का मालिक उस गधे के पीछे गाड़ी लगाकर नदी में मिटटी लेने के लिए चला गया आने में वह बहुत लेट हो गया तब तक वह इन्सान खाना नहीं खा रहा था काफी इंतजार करने के बाद भूख सहन नहीं हो रही थी और सामने के घर में चला गया यह पूछने की आपका गधा कहा पर है उन्होने बताया की नदी में लेके गये है मिटटी लेने के लिए इतनी सुनकर वह इन्सान नदी की तरफ चल दिया वहा पर जाकर देखा की गधे गाड़ी में मिटटी खोदकर डाली जा रही है अभी दोनों का सयोंग इस तरह बैठता है की जब गधे का मालिक मिटटी खोद रहा था उस वक्त एक सोने चांदी से भरा हुआ बर्तन दिखाई दिया और उसी वक्त उसको वह गधा दिखाई दिया और जोर से चिल्लाने लगा की मिल गया मिल गया मिल गया मिटटी भरने वाले ने सोचा की शायद इस सोने चांदी से भरा हुआ बरतन के बारे में बोल रहा है उसने तुरंत उसको बोला भाई हल्ला मत कर बेशक इसमें से आधा लेले उस इन्सान को आधा जेवर मिल गया 
जबकि उसका target था की वह गधे की सकल देखेगा 
2.आप कभी असफल नहीं हो सकते 
जीवन किसी भी मनुष्य के लिए आसान नहीं होता है जीवन में हर एक मोड़ पर संघर्स का सामना करना पड़ता है चाहे वह महान व्यक्ति क्यों ना उसने भी अपनी महानता की कीमत पहले अदा की है बल्ब निर्माता थॉमस एडिसन कभी भी अपने आप को असफल नहीं मानते वो मानते है उन्होंने 9999 बार बल्ब बनाने के तरीके सीखे थे यह उनका target था की उन्हें बल्ब बनाना ही है इसी प्रकार आप भी एक लक्ष्य बनाये ताकि आप भी असफल होने से बच सके 
3.उस काम के साथ आपका relation अच्छा होगा 
जब तक आप किसी से गहरा रिश्ता नहीं बनाओगे तब तक आपको उसके साथ काम करने में अच्छा महसूस नहीं होगा अगर आपका एक target है और उस target के साथ आपका अच्छा relation है तो आप उसको किसी भी हालत में प्राप्त कर लोगे जैसे एक माँ को बोला जाये आपको सडक पर बहुत तेज स्पीड में भागना है तो वह माँ अपनी छमता के अनुसार भागेगी लेकिन उसी माँ का बच्चा किसी बस में रह जाता है और बस चल देती है तो फिर वही माँ अपनी स्पीड से 4 गुना 5 गुना 10 गुना भाग लेती है और पूरी कोशिश करती है बस तक जाने की क्योकि अभी भागने में उसका एक गहरा relation है की उसका बच्चा बस में रह गया है क्योकि उस बच्चे के साथ उसका relation जुड़ा हुआ है माँ का target उस relation से जुड़ गया 
4.दिनचर्या अच्छी होगी 
आपको पता है आपका target क्या है और आप ही जानते हो की आपका target कैसे प्राप्त होगा और आपसे अधिक कोई नहीं जान सकता की आपको उस target को पाने के लिए कितनी महनत करनी पड़ेगी इन सबके अनुसार आप काम कर रहे है तो आपकी दिनचर्या बहुत अच्छी होगी यह एक लक्ष्य बनाने का फायदा है 
5.जैसा सोचोगे वैसा ही बनोगे 
target बनाने का एक और बहुत अच्छा फायदा है की आप जैसा सोचोगे वैसे ही आप बन जाओगे क्योकि आप जब अपने लक्ष्य का डिसीजन करते हो उस वक्त आपकी सोच अगर यह होती है की मुझे इस लक्ष्य को हर हाल में पाना है तो आप जरुर पाओगे अगर आप लक्ष्य का डिसीजन करते समय यह सोचते हो की कोशिश तो करता हु बाकि देखते है तो आप वैसे ही बन जाओगे 
अथवा लक्ष्य बनाते समय आप जैसा सोचोगे वैसे ही आप बन जाओगे 
6.सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम करना सीखोगे 
महान और सफल व्यक्ति हमेशा एक बात बोलते है की आप जो भी काम कर रहे है उसको आप सही समय और सही दिशा निर्देशन में करे आप को 100% सफलता मिलेगी लेकिन सही समय और सही दिशा निर्देशन में आप काम जब करोगे जब आपका target fix होगा अगर आपका लक्ष्य ही नहीं है तो आप सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम कैसे कर लोगे कभी हो ही नहीं सकता अगर आप हर काम को एक लक्ष्य बना कर कर रहे है तो आप सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम करना शीख जाओगे 
आप यहाँ से  यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
7.subconscious mind तीव्र गति से काम करेगा 
एक होता है conscious mind और एक होता है subconscious mind दोनों में फर्क होता है conscious mind हमेशा खोज करता है तथा डिसाइड करता है लेकिन subconscious mind खोज किये हुए तथा डिसाइड किये हुए कार्य को तीव्र गति से संपन करता है अगर आपके पास एक लक्ष्य है तो आपका subconscious mind तीव्र गति से काम करेगा 
8.अगर आपका लक्ष्य साफ है तो रास्ते भी साफ नजर आयेंगे 
जिन्दगी की असली परिस्थितिया उन लोगो को क्या पता जिन्होंने कभी life में कोई लक्ष्य ही नहीं बनाया हो अगर आपके पास एक लक्ष्य है तो आपको हर मोड़ पर समस्या का सामना तो करना ही पड़ेगा लेकिन अगर आपका फोकस सीधा अपने लक्ष्य पर है तो समस्या आपको बिल्कुल दिखाई ही नहीं देगी क्योकि जिस तरीके से आपका ध्यान लक्ष्य पर होगा तो समस्या पर जायेगा ही नहीं इसलिए आपका लक्ष्य साफ है तो रास्ते भी साफ है 
9.आपके concentration और energy का लेवल बराबर होगा 
concentration होती है एकाग्रता और energy होती है शक्ति ! अगर आपके पास कोई लक्ष्य है तो concentration और energy का लेवल बराबर हो जाता है इसको एक बहुत अच्छे उदाहरन से समजते है...........
आप किसी लाईब्रेरी में जाते हो बुक्स पढने के लिए लेकिन आपका कोई लक्ष्य नहीं था की कोनसी books पढनी है और आप जाकर कोई एक books उठा लेते हो पढने के लिए लेकिन आप उस books को ध्यान से concentration से नहीं पढ पाओगे लेकिन आपका target है की आपको कोनसी books read करनी है तो आपकी concentration बहुत अच्छी होगी    
10.मन में उठने वाली दुविधा ख़त्म हो जाती है 
इन्सान जो भी सोचता है वह सब कुछ इन्सान के मन में होता है माना की आप एक लक्ष्यहिन् इन्सान हो आपके पास कोई लक्ष्य नहीं है आप रात को सोकर सुबह उठते हो लेकिन उठकर क्या करना है यह आपको पता नहीं है तो आपके  मन में हमेशा दुविधा ही उठेंगी 
इसके अलावा अगर आपका एक मजबूत लक्ष्य है आपको यह पता है की सुबह जागने के बाद मुझे क्या करना है तो आपका ध्यान सीधा अपने target पर ही जायेगा मन में उठने वाली सारी दुविधा खत्म हो जाएगी 
11.कम समय में जिन्दगी जीने का अनुभव मिलता है 
वैसे तो लोग बोलते है की मेरी उम्र 30 साल है मैंने दुनिया देखी है मुझे इस दुनिया का अनुभव है और में जिन्दगी जीना तरीके से जानता हु लेकिन जिन्दगी का असली अनुभव तो उस इन्सान को है जिसने बहुत कम समय में किसी लक्ष्य को हासिल किया हो और उस लक्ष्य को हासिल करने का अनुभव ही जिन्दगी जीने का अनुभव होता है 
इसकी प्राप्ति केवल लक्ष्य निर्धारित करने से ही होती है 
12.अगर आपके पास लक्ष्य है तो आप आपकी नजर में सफल इन्सान हो 
अगर आप यह सोचते हो की में बस लोगो की नजर में सफल बन जाऊ वही काफी है तो आप बहुत घटिया हरकत अपने ही साथ कर रहे हो असली सफल इन्सान तो वह है जो अपनी खुद की नजर में सफल हो आप बिना कोई target बनाये अच्छा काम कर सकते हो और लोगो की नजर में सफल भी दीख सकते हो लेकिन आप अपनी नजर में सफल तभी बनोगे जब आप कोई target लक्ष्य बनाकर सफलता हासिल करोगे 
13.आपको हर एक opportunities में सफलता नजर आएगी 
आपके पास अगर एक लक्ष्य है तो आपको हर एक opportunity में सफलता नजर आएगी इसको एक बहुत अच्छे उदाहरन से समजते है....
आपने एक target बनाया की आपको एक school खोलनी है उससे पहले आपको एक opportunity मिली किसी school में teaching कराना है तो इस opportunity को नहीं ठुकरा सकते क्योकि आपको experience मिलने वाला है लेकिन अगर आपका यह target ही नहीं होता तो आप इस opportunity को ठुकरा देते 
14.आपकी जिन्दगी का vision आपके सामने होगा 
जिन्दगी में हमेशा दो चीजे बहुत मायने रखती है एक है region और एक है vision 
आप कोई target बनाते है वह आपका vision है और आप ने यह target क्यों बनाया यह आपका region है जब आप सुबह बिस्तर छोड़ते हो और भगवान को शुक्रिया करते हो की हे भगवान आपको बहुत बहुत सुक्रिया की मेरा vision पूरा करने के लिए आप ने मुझे एक दिन और दिया अगर आपकी जिन्दगी में कोई लक्ष्य होता ही नहीं तो आपका vision आपकी आँखों के सामने नहीं होता  
15.आपकी सोचने की छमता अधिक होगी 
एक आम इन्सान कितना सोच सकता है और किस दिशा में सोच सकता है यह उसकी सोचने की छमता पर निर्भर करता है आप जितना गहरा सोचोगे उतनी ही छमता अधिक होगी 
जब आपके पास एक लक्ष्य निर्धारित है और उसे आप पाना चाहते हो तो उसके लिए आपको कुछ सोचना भी पड़ेगा इसलिए एक लक्ष्य निर्धारित करने से आपकी सोचने की छमता अधिक हो जाती है 
आप यहाँ से इन्हें भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 


दोस्तों मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है यह पोस्ट बहुत ही कठोर महनत और संघर्ष से तैयार की गयी है और में आशा करता हु की आप आज से ही अपनी जिन्दगी के लिए target बनालोगे 
दोस्तों आप इस पोस्ट को उन लोगो को जरुर share करना जिसकी सफल जिन्दगी में आपका भी हाथ हो जाये 
अगर आप चाहते हो तो अभी share करो 

लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे

1 comment :
आपके पास कोई लक्ष्य है और आप उस लक्ष्य को पाना चाहते हो लेकिन किसी समस्या की वजह से आप अभी अपने लक्ष्य से दूर हो तो अपने उस उद्देश्य को याद करे जिसमे आपने सफलता पाई है ज़रा याद करो किस तरह रास्ते में रुकावट आई थी और आपने कठोरता से उस समस्या का समाधान किया था और रास्ते से उस समस्या को हटा दिया था 
How to encourage yourself to achieve goals-ways to achieve your goals

this is your dream

लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
1.आपका लक्ष्य क्या है 
अगर आपने अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया है तो समजो आपका लक्ष्य 40% आपको मिल गया है क्योकि लक्ष्य को पाने के लिए पहला कदम होता है लक्ष्य को निर्धारित करना जैसे आपको अपने घर से किसी दूसरी सिटी में जाना है तो आपका लक्ष्य है वह सिटी जिसमे आपको पहुचना है लेकिन अगर आप घर से चलने से पहले आपको पता ही नहीं है की आप कहा जाओगे तो लक्ष्य हीन हो इसी तरह आप एक बार अपना कोई भी लक्ष्य निर्धारित करे 
2.अपने लक्ष्य को लिखो 
लक्ष्य निर्धारित करने के बाद उस लक्ष्य को एक एसी जगह पर लिखो जहा पर आप सबसे ज्यादा रहते हो ताकि आपकी आँखों के सामने आपका लक्ष्य रहे दुनिया के अमीर लोगो में सुमार बिल ग्रेट्स कहते है की the goal written is the power लिखे हुए target में शक्ति होती है अगर आपने अपना target लिख लिया तो दुनिया का कोई भी तूफान नहीं रोक सकता उसको पाने से इसका एक और फायदा होता है जब आप अपने लक्ष्य से भटक जाते हो तो आप की आँखों के सामने आपका लक्ष्य दिखेगा ताकि आप भटक ना सको 
3.फिर यह निर्धारित करो की आप उस लक्ष्य को क्यों पाना चाहते हो 
अगर आप यह भूल जाते है की आप काम क्या कर रहे हो तो कोई बात नहीं है लेकिन अगर आप यह भूल जाते है की आप काम क्यों कर रहे हो तो आप बहुत बड़ी गलती कर रहे हो 
जब आपने लक्ष्य निर्धारित किया था उसकी भी एक वजह थी अब जिस वक्त आप अपने लक्ष्य से भटक जाते हो तो उस वजह को याद जरुर करना आप कभी भी अपने लक्ष्य से नहीं भटकोगे 
4.विस्वास रखे की आप इसे पा सकते है 
आप हमेशा विश्वाश रखे की आप उस काम को कर सकते है और आपसे अच्छा कोई कर भी नहीं सकता तो आप जरुर उस काम को कर सकते है किसी ने सही कहा है......................
मंजिल बहुत जिद्दी होती है मिलती कहा नसीब से है 
मगर वहा तूफान भी हार जाते है जहा कस्तिया जिद्द पर होती है 
भरोसा इश्वर पर करोगे तो जो तगदिर में लिखा है वही पाओगे 
मगर भरोषा अपने आप पर करोगे तो इश्वर वही लिखेगा जो आप चाहोगे 
5.लक्ष्य को पाने के लिए योजना तैयार करो 
आपको एक योजना तैयार करनी है जिसमे आप यह डिसाइड करोगे की मुझे क्या काम करना है कब किससे मिलना है काम कैसे करना है और कितना काम करना है यह एक योजना है जिससे आप अपने लक्ष्य के लिए काम कर सकते हो 
6.SMART फार्मूला का उपयोग करे 
एक होता है hard work और एक होता है smart work दोनों में फर्क होता है एक अच्छी सोच का hard work करने वाला इन्सान कभी सपनो के बारे में नहीं सोचता और smart work करने वाला dream को पूरा करने के लिए महनत करता है 
आखिर क्या है smart work 
दुनिया के सफल लोगो ने एक फार्मूला दिया जिसका नाम है smart फार्मूला 
S=specific  = निश्चित करना 
M=Measure weight = माप तोल 
A=achieve = प्राप्त करना 
R=Region = कारन 
T=time = समय 
smart फार्मूला का अर्थ होता है की कोई भी काम उसकी मात्रा निश्चित करो कितनी और क्यों चाहिए तथा कब चाहिए 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
7.बड़े लक्ष्य को छोटे छोटे टुकडो में बाँट लेना चाहिए 
जब इन्सान एक पहाड़ जैसे लक्ष्य को देखता है उस समय वह घबरा जाता है उस बड़े लक्ष्य को देखकर उसके बजाये आप उस बड़े लक्ष्य को टुकडो में बाँट सकते हो जिससे आपका काम जल्दी हो जाये 
8.भय से जुडी हुयी हर एक सोच को ख़त्म कर दो 
किसी भी काम को start करने से पहले एक डर पैदा होता है और वह डर यह भी हो सकता है फ़ैल होने का यह डर यह भी हो सकता है loss होने का इत्यादि 
आपकी जिन्दगी में जितने भी डर है उन सबको खत्म करो 
9.हमेशा positive सोचे 
आप किसी पार्टी में जाते है वहा पर आपको आधा गिलाश cold drink मिली अब आपकी सोच के उपर आधारित है की आप क्या सोचते हो या तो आपको सिर्फ आधा गिलाश ही cold drink मिली या फिर कम से कम आधा गिलाश cold drink मिली आप क्या सोचते हो यह आपके ऊपर है 
इसलिए आप हमेशा positive सोचे 
"हमारी सोच हमारे ऊपर निर्भर करती है हमारे साथ जो कुछ घटता है उसका हमारे व्यक्तित्व में योगदान 10% होता है हम किस तरह प्रति कार करते है उसका योगदान 90% है " chak svindol 
10. नकारात्मक लोगो को अपनी जिन्दगी से निकाल दो और सकारात्मक लोगो के पास चले जाओ 
अगर आपसे कोई यह बोले की आप इस काम को नहीं कर सकते तो इस दुनिया का यह सबसे बड़ा पाप है अगर आपको कोई यह कहे की आप इस काम को आसानी से कर सकते हो और आप इसमें जरुर सफल भी बनोगे तो यह इस दुनिया का सबसे बड़ा धर्म है 
आप अपनी जिन्दगी से उन लोगो को निकाल दो जो इस तरह का पाप करते है बस उन लोगो के साथ रहना start करदो जिनकी सोच हमेशा positive रहती है और वो positive लोगो की भीड़ आपको धक्का मार मार कर सफल बना देंगे 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
11.लोग क्या कहेंगे इस डर को ख़त्म करदो  
सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग यह कहावत काफी प्रचलित है लेकिन आपको यह बीमारी नहीं है 
लोगो का काम है कहना लोग जब भी कहेंगे जब आप असफल हो और लोग जब भी कहेंगे जब सफल बन जाओगे बस उनके word बदल जायेंगे इसलिए आपको यह डर ख़त्म कर देना चाहिए की लोग क्या कहेंगे 
अगर आपमें अपमान सहने की छमता है तो आपमें सफल होने की भी छमता है 
12.किसी को अपना आदर्श बनाओ make a your ideal 
इन्सान जब कोई भी सपना देखता है उसकी एक खास वजह यह भी होती है की उसने ऐसा कोई और इन्सान देखा होगा जिसे देख कर लगा की मुझे भी ऐसा ही बनना है और ऐसा होना भी चाहिए 
अपनी जिन्दगी में एक अपना ideal भी होना चाहिए जिससे में यह शीख सकू की इसने कैसे problem face किया और आजा सफल व्यक्ति बना 
में मेरे ideal की बात करता हु तो हिंदी फिल्मो के star अमिताभ बच्चन है जिनसे मुझे हमेशा प्रेरणा मिलती है 
13.हमेशा शारीरिक और मानसिक स्वस्थ रहे 
आप किसी भी काम में अपना 100% जब तक नहीं दे सकते जब तक आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ नहीं हो आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होने के लिए आप समय पर doctor से सलाह ले सकते है 
14.लक्ष्य पर फोकस रखे 
Focus का अर्थ होता है 
F = Follow  पीछा करना 
O = one एक 
C = cover  सपना 
U = united जब तक 
S = success सफलता 
हमें एक सपने का जब तक पीछा करना है जब तक हमें सफलता ना मिल जाये 
इस तरह अपने लक्ष्य पर फोकस करे 
15.हमेशा अपने आप को best समजे 
में इस काम को कर सकता हु यह आपका आत्मसम्मान है लेकिन सिर्फ में ही इस काम को कर सकता हु यह घमंड है 
हमें सिर्फ अपना आत्म सम्मान बनाये रखना है और यह सोचना है की i am the best and i am champion 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 


उम्मीद करता हु दोस्तों आपको यह पोस्ट बहुत अच्छी लगी  प्लीज आप इस पोस्ट पर comment जरुर करे 
अगर आप भी चाहते हो अपने परिवार को सफल बनाना तो अभी उनको यह पोस्ट share करो अपने फ्रेंड को भी share करो 
धन्यवाद