WhatsApp motivational stories जो चाहोगे वही पाओगे , जो चाहोगे वही पाओगे

आप यहाँ पर हर रोज कुछ नया सीखोगे

motivational stories जो चाहोगे वही पाओगे , जो चाहोगे वही पाओगे

No comments :
जो चाहोगे वही पाओगे  
एक school में teacher रोज बच्चों student को home work देते थे तो कुछ student Homework teacher के बताए अनुसार complete कर लेते लेकिन वही कुछ छात्र homework complete नही करके लेके आते जो विद्यार्थि समय time पर teacher के बताए अनुसार निर्देशो का पालन नही करते उनके पास एक ही भायने होते थे कि हमारा मन नही करता और homework करना हमारे लिए मुश्किल है
जो student teacher के दिये गए निर्देशों का पालन करते थे उनके पास बोलने को सिर्फ इतना होता था हा sir मेरा homework पूरा है हम आपके दिए गये निर्देशो का पालन आसानी से कर लेते है
Class में दोनों तरीको के student का पता लग चुका था
वही टीचर की एक प्रचलित लाइन थी कि

काफी सारे स्टूडेंट उनकी इस प्रचलित लाइन से अपनी life सुधार चुके थे
  जो चाहोगे वही पाओगे
 जो चाहोगे वही पाओगे जो चाहोगे वही पाओगे जो चाहोगे वही पाओगे जो चाहोगे वही पाओगे
लेकिन काफी सारे student उनकी इस लाइन को बार बार सुनकर थक चुके थे और परेशान होने लगे काफी दिन बीत जाने के बाद जो स्टूडेंट उनको सुनना पसंद नही करते थे उनमें से एक छात्र उस टीचर के पास जाता है और बोलता है गुरुजी जो आप बार बार लाइन बोलते हो कि जो चाहोगे वही पाओगे जो चाहोगे वही पाओगे
क्या यह सही है
गुरुजी  बोले अरे हा ये तो बिल्कुल सही है
Student बोला नही गुरुजी हम ऐसे नही मानगे हमे आप सिद्ध करके बताओ कि
में जो चाहता हु क्या में बन सकता हु अथवा में जो चाहूंगा वही पाऊंगा
गुरुजी बोले हा जरूर पाओगे
Student गुरुजी की बात सुनकर हसने लगा और बोला कि में एक I A S बनना चाहता हु क्या बन सकता हु
गुरुजी बोले हा आसानी से
Student बोला वह कैसे
गुरुजी बोले आपको कल जब पूरे school की छुट्टी हो जाये उस के बाद विद्यालय में कोई नही रहता आपको अकेले मेरे पास आना है में आपको कुछ देने वाला हु
Student हा बोलकर वहां से चला गया

दूसरे दिन जैसे ही school की छुट्टी होती है school में कोई नही बचा तभी अकेल में स्टूडेंट उस टीचर के पास जाता है छात्र को बोलने की जरूत नही पड़ी गुरुजी समज गए थे जैसे ही दोनों एक साथ बैठे बात चीत होने लगी तभी टीचर ने अपने बैग में हाथ डाला और अपनी मुठी में कुछ निकाल कर student का दायां हाथ निकालने को कहा  छात्र ने जैसे ही दायां हाथ आगे बढ़ाया टीचर ने छात्र के हाथ मे अपना हाथ डाला और बोला में आपको एक हीरा दे रहा हु संभाल कर रखना और उस हीरे का नाम है

                        विस्वास 

और फिर से टीचर ने अपने बैग में हाथ डाला और इस बार छात्र का बायां हाथ मांगने को कहा छात्र ने अपना बायां हाथ गुरुजी की ओर बढ़ाया गुरुजी ने अपना हाथ student के हाथ मे डाल और बोले कि में आपको एक मोटी दे रहा हु इसको भी संभाल कर रखना और इस मोती का नाम है

                      धर्य patience 

आपको ज्ञात हो तो टीचर के दोनों बार ही हाथ खाली ही निकले थे
लेकिन छात्र को समज आ चुका था
और वह वहाँ से बिना कुछ बोले चल पड़े
छात्र से जाते समय टीचर बोला बेटा अगर तेरे पास विस्वास और धर्य है तो तुम जरूर I A S बनोगे
आखिर छात्र को टीचर के सामने झुकना पड़ा


मोरल  .....
आप जो चाहते हों वही पाओगे लेकिन आपके पास विस्वास नाम का हीरा और धर्य नाम का मोती होना चाहिए

आप यहां से यह भी पड़ सकते हो

No comments :

Post a Comment

see 42 types of marketing all clearly explained examples

मैंने आपको पहले आर्टिकल में बताया था की पूरी दुनिया में 131 तरीके से मार्केटिंग की जाती है लेकिन भारत में 42 तरीके से मार्केटिंग की जाती ...