अपने कौशल की पहचान कैसे करे

आप यहाँ पर हर रोज कुछ नया सीखोगे

अपने कौशल की पहचान कैसे करे

1 comment :
कौशल हर व्यक्ति को भगवान का दिया हुआ गिफ्ट होता है जो हर इन्सान में अलग अलग तरीके का होता है कौशल को भगवान ने गिफ्ट तो कर दिया लेकिन कुछ ही लोग होते है जो उस कौशल की पहचान कर पाते है और कुछ लोग होते है जो भगवान के दिए हुए कौशल का भर पूर फायदा उठाते है और कुछ लोगो को दूसरो को याद दिलाने पर पता चलता है की उनके अंदर भी कौशल होता है 
identify-your-skills
skill

इसका पुख्ता सबूत रामायण में भी मिलता है जब भगवान राम माता सीता का पता लगाने के लिए जा रहे थे तो लंका पर चड़ाई करने के लिए समुन्द्र के किनारे सभी राम लक्ष्मण और देवता गन खड़े हुए थे और यह प्लान कर रहे थे की आखिर कोन जायेगा लंका में जो माता सीता का पता लगा के आ सके सभी चुप थे कोई कुछ भी नहीं बोल पा रहा था इतने में नल और नील बोले.............
कहे रीछ पति सुन हनुमाना कहे चुप सधी रहे बलवाना 
पवन तनय बल पवन समाना बुद्दी विवेक विज्ञानं निधाना 
हे हनुमान जी आप क्यों चुप बैठे हो आप तो बहुत बलवान हो आपमें पवन के जैसा बल है बुद्दी है आप हवा में भी उड़ सकते हो आपको जाना चाहिए तब जाकर याद आया था हनुमान जी को की उनमे भी कुछ कला है कौशल है !!! कौशल आम इन्सान में होता है बस उसको पहचानना बाकि है जो अब हम सीखेंगे 
अपने कौशल की पहचान कैसे करे 
1.किसी भी काम को करने से डरे नहीं 
दुनिया का हर काम मानव कर सकता है यह संभव है लेकिन भगवान सभी को बराबर बराबर दिमाग देता है कोई भी काम हो अगर और कोई उस काम को कर सकता है तो आप भी उस काम को जरुर कर सकते हो आपको डरना नहीं चाहिए बल्कि आपको यह सोचना चाहिए की में इस काम को आसानी से कर सकता हु ऐसा करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
2.मोके का हमेशा फायदा उठाये
अगर आपके पास मोका है यह साबित करने का की आपके अंदर भी कोई हुनर है तो आपको यह मोका नहीं गवाना चाहिए बल्कि इसका भरपूर फायदा लेना चाहिए आपको चाहे कही पर भी मोका मिले अपना हुनर दिखाने का तो आप अपना सारा हुनर निकाल कर पटक दो इससे आप के अंदर छुपे हुए कौशल की पहचान होगी  
3.किसी भी काम को सही तरीके से करे 
आप कोई भी काम कर रहे उस काम को आप अपना आखिरी काम समजे और उस काम को अपने दिल और दिमाग लगाकर करे और यह समजे की अगर यह काम सही हो गया तो यह काम मेरी पहचान करवाएगा लोगो के सामने और लोगो के भाव जो होंगे आपके प्रति उस काम को देखकर वही  से आपके कौशल की पहचान होती हुयी चली जाएगी   
जैसे आपकी बोर्ड exam है तो उस बोर्ड exam में आप सही तरीके से महनत करे जब आपका result आएगा वही आपकी पहचान बन जायेगा क्योकि आपने जिस तरीके से exam पास किया है वही आपका कौशल है 
4.रिस्क लेने से नहीं डरे 
जिन्दगी में हर काम रिस्क है खाना खाना भी रिस्क है कही पर जाना भी रिस्क है train में सफर करना भी रिस्क है होटल में खाना खाने में भी रिस्क है cricket match देखना भी रिस्क है हर काम में रिस्क है आप घर free बैठे है तो भी रिस्क है लेकिन उस रिस्क को कोई लेना नहीं चाहता अगर आप हर काम में हर जगह रिस्क लेना पसंद करते हो तो इससे आपका हुनर निकल कर सामने आता है 
5.सोचे कम और काम अधिक करे 
अगर आप free बैठ कर सोचने में अधिक time खर्च करते हो तो आपका जो भी कौशल है वह अंदर चला जायेगा लेकिन आप सोचने के बजाये उस काम को करने पर अधिक ध्यान देते हो तो आपका कौशल उस काम में एक नई पहचान करवा देगा कम सोचने और काम अधिक करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
6.आपके दुवारा किये गये सभी सफल कामो की सूची बनाये 
कई बार जब इन्सान यह भूल जाता है की वह भी उस काम को कर सकता है उस वक्त आप एक लिस्ट तैयार करे जिसमे उन सभी कामो को लिखे जो आपने अपने कौशल से सफल किये हो ऐसा करने से आपको अपने अंदर छुपे कौशल की पहचान होती है 
7.उस काम को याद करो जिसे आपने सफलता पूर्वक किया हो
अपने कौशल की पहचान करने के लिए आपको हमेशा अपने उन कामो को याद करना चाहिए जो आपने सफलता पूर्वक किये हो ऐसा करने से भी आपके अंदर छुपे कौशल का पता चलता है  
8.हमेशा रचनात्मक सोचे 
आपकी सोच अगर हमेशा ही रचनात्मक है जो कुछ ना कुछ रचना करना या हमेशा नया करने के बारे में सोचते हो तो आपकी की गयी रचना ही आपका असली कौशल है 
9.आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे 
हर इन्सान को अधिकार है अपने मन की सुनने का हर इन्सान को अधिकार है आत्मनिर्णय का आप भी अपने आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे और उसका फायदा उठाये 
जैसे एक बच्चा जो छोटे छोटे खिलोनो को खोल कर सुधारने की कोशिश करता है वह उसका आत्मनिर्णय है लेकिन बड़े होने पर उसको बोला जाये की आप को doctor की तैयारी करनी है अब उससे आत्मनिर्णय का अधिकार छीन लिया गया है अगर वह बचपन में छोटे छोटे खिलोने को सुधार सकता है तो वह बड़ा होकर बड़े साधनों को भी सुधार सकता है आपके आत्मनिर्णय का अधिकार आपके कौशल की पहचान कराता है  
10.परिस्थितियों के प्रति मानसिक प्रतिकिर्या दो 
इन्सान की जिन्दगी में परस्थितियो का दोर जरुर आता है उस समय या तो इन्सान खुद टूट जाता है या फिर रिकॉर्ड तोड़ देता है 
इस दुनिया में एक भी लॉक ऐसा नहीं बना जिसकी चाबी ना बनी हो इसी प्रकार इस दुनिया में एक भी समस्या एसी नहीं है जिनका कोई solution नहीं हो बस आपको करना आना चाहिए आपके पास दिमाग है तो कर सकते हो अगर आप अपनी परस्थितियो को दिमाग से खत्म करते हो तो यह आपका कौशल है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 

दोस्तों यह पोस्ट अपने कौशल की पहचान कैसे करे आपको अपने कौशल की पहचान करने में बहुत मदद करेगी 
दोस्तों इस पोस्ट को उन लोगो को share करो जो आपकी नजर में है और उनमे कोई न कोई कौशल है लेकिन वह पहचान नहीं पा रहे तो उनकी जिन्दगी में नई ख़ुशी ला सकते हो अभी करो share 
धन्यवाद जी 

1 comment :