2019-08-04

Mekhraj bairwa

आप यहाँ पर हर रोज कुछ नया सीखोगे

अपने कौशल की पहचान कैसे करे

1 comment :
कौशल हर व्यक्ति को भगवान का दिया हुआ गिफ्ट होता है जो हर इन्सान में अलग अलग तरीके का होता है कौशल को भगवान ने गिफ्ट तो कर दिया लेकिन कुछ ही लोग होते है जो उस कौशल की पहचान कर पाते है और कुछ लोग होते है जो भगवान के दिए हुए कौशल का भर पूर फायदा उठाते है और कुछ लोगो को दूसरो को याद दिलाने पर पता चलता है की उनके अंदर भी कौशल होता है 
identify-your-skills
skill

इसका पुख्ता सबूत रामायण में भी मिलता है जब भगवान राम माता सीता का पता लगाने के लिए जा रहे थे तो लंका पर चड़ाई करने के लिए समुन्द्र के किनारे सभी राम लक्ष्मण और देवता गन खड़े हुए थे और यह प्लान कर रहे थे की आखिर कोन जायेगा लंका में जो माता सीता का पता लगा के आ सके सभी चुप थे कोई कुछ भी नहीं बोल पा रहा था इतने में नल और नील बोले.............
कहे रीछ पति सुन हनुमाना कहे चुप सधी रहे बलवाना 
पवन तनय बल पवन समाना बुद्दी विवेक विज्ञानं निधाना 
हे हनुमान जी आप क्यों चुप बैठे हो आप तो बहुत बलवान हो आपमें पवन के जैसा बल है बुद्दी है आप हवा में भी उड़ सकते हो आपको जाना चाहिए तब जाकर याद आया था हनुमान जी को की उनमे भी कुछ कला है कौशल है !!! कौशल आम इन्सान में होता है बस उसको पहचानना बाकि है जो अब हम सीखेंगे 
अपने कौशल की पहचान कैसे करे 
1.किसी भी काम को करने से डरे नहीं 
दुनिया का हर काम मानव कर सकता है यह संभव है लेकिन भगवान सभी को बराबर बराबर दिमाग देता है कोई भी काम हो अगर और कोई उस काम को कर सकता है तो आप भी उस काम को जरुर कर सकते हो आपको डरना नहीं चाहिए बल्कि आपको यह सोचना चाहिए की में इस काम को आसानी से कर सकता हु ऐसा करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
6.मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है 
2.मोके का हमेशा फायदा उठाये
अगर आपके पास मोका है यह साबित करने का की आपके अंदर भी कोई हुनर है तो आपको यह मोका नहीं गवाना चाहिए बल्कि इसका भरपूर फायदा लेना चाहिए आपको चाहे कही पर भी मोका मिले अपना हुनर दिखाने का तो आप अपना सारा हुनर निकाल कर पटक दो इससे आप के अंदर छुपे हुए कौशल की पहचान होगी  
3.किसी भी काम को सही तरीके से करे 
आप कोई भी काम कर रहे उस काम को आप अपना आखिरी काम समजे और उस काम को अपने दिल और दिमाग लगाकर करे और यह समजे की अगर यह काम सही हो गया तो यह काम मेरी पहचान करवाएगा लोगो के सामने और लोगो के भाव जो होंगे आपके प्रति उस काम को देखकर वही  से आपके कौशल की पहचान होती हुयी चली जाएगी   
जैसे आपकी बोर्ड exam है तो उस बोर्ड exam में आप सही तरीके से महनत करे जब आपका result आएगा वही आपकी पहचान बन जायेगा क्योकि आपने जिस तरीके से exam पास किया है वही आपका कौशल है 
4.रिस्क लेने से नहीं डरे 
जिन्दगी में हर काम रिस्क है खाना खाना भी रिस्क है कही पर जाना भी रिस्क है train में सफर करना भी रिस्क है होटल में खाना खाने में भी रिस्क है cricket match देखना भी रिस्क है हर काम में रिस्क है आप घर free बैठे है तो भी रिस्क है लेकिन उस रिस्क को कोई लेना नहीं चाहता अगर आप हर काम में हर जगह रिस्क लेना पसंद करते हो तो इससे आपका हुनर निकल कर सामने आता है 
5.सोचे कम और काम अधिक करे 
अगर आप free बैठ कर सोचने में अधिक time खर्च करते हो तो आपका जो भी कौशल है वह अंदर चला जायेगा लेकिन आप सोचने के बजाये उस काम को करने पर अधिक ध्यान देते हो तो आपका कौशल उस काम में एक नई पहचान करवा देगा कम सोचने और काम अधिक करने से आपके कौशल की पहचान होती है 
6.आपके दुवारा किये गये सभी सफल कामो की सूची बनाये 
कई बार जब इन्सान यह भूल जाता है की वह भी उस काम को कर सकता है उस वक्त आप एक लिस्ट तैयार करे जिसमे उन सभी कामो को लिखे जो आपने अपने कौशल से सफल किये हो ऐसा करने से आपको अपने अंदर छुपे कौशल की पहचान होती है 
7.उस काम को याद करो जिसे आपने सफलता पूर्वक किया हो
अपने कौशल की पहचान करने के लिए आपको हमेशा अपने उन कामो को याद करना चाहिए जो आपने सफलता पूर्वक किये हो ऐसा करने से भी आपके अंदर छुपे कौशल का पता चलता है  
8.हमेशा रचनात्मक सोचे 
आपकी सोच अगर हमेशा ही रचनात्मक है जो कुछ ना कुछ रचना करना या हमेशा नया करने के बारे में सोचते हो तो आपकी की गयी रचना ही आपका असली कौशल है 
9.आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे 
हर इन्सान को अधिकार है अपने मन की सुनने का हर इन्सान को अधिकार है आत्मनिर्णय का आप भी अपने आत्मनिर्णय के अधिकार को समजे और उसका फायदा उठाये 
जैसे एक बच्चा जो छोटे छोटे खिलोनो को खोल कर सुधारने की कोशिश करता है वह उसका आत्मनिर्णय है लेकिन बड़े होने पर उसको बोला जाये की आप को doctor की तैयारी करनी है अब उससे आत्मनिर्णय का अधिकार छीन लिया गया है अगर वह बचपन में छोटे छोटे खिलोने को सुधार सकता है तो वह बड़ा होकर बड़े साधनों को भी सुधार सकता है आपके आत्मनिर्णय का अधिकार आपके कौशल की पहचान कराता है  
10.परिस्थितियों के प्रति मानसिक प्रतिकिर्या दो 
इन्सान की जिन्दगी में परस्थितियो का दोर जरुर आता है उस समय या तो इन्सान खुद टूट जाता है या फिर रिकॉर्ड तोड़ देता है 
इस दुनिया में एक भी लॉक ऐसा नहीं बना जिसकी चाबी ना बनी हो इसी प्रकार इस दुनिया में एक भी समस्या एसी नहीं है जिनका कोई solution नहीं हो बस आपको करना आना चाहिए आपके पास दिमाग है तो कर सकते हो अगर आप अपनी परस्थितियो को दिमाग से खत्म करते हो तो यह आपका कौशल है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
18.अपने काम को किसी दुसरे के काम से बड़ा समजने के नुकसान 

दोस्तों यह पोस्ट अपने कौशल की पहचान कैसे करे आपको अपने कौशल की पहचान करने में बहुत मदद करेगी 
दोस्तों इस पोस्ट को उन लोगो को share करो जो आपकी नजर में है और उनमे कोई न कोई कौशल है लेकिन वह पहचान नहीं पा रहे तो उनकी जिन्दगी में नई ख़ुशी ला सकते हो अभी करो share 
धन्यवाद जी 

मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है

No comments :
जिस तरीके से एक गाड़ी को चलाने के लिए पैट्रोल डीजल की आवश्यकता होती है उसी तरह इन्सान के जीवन को सुंदर बनाने के लिए एक मजबूत लक्ष्य की आवश्यकता होती है अगर आज हम जितने भी महान और सफल लोगो को याद करते है वो महान और सफल इसलिए बने क्योकि उन्होंने एक लक्ष्य को पाया उसके लिए उन्होंने जीतोड़ महनत की अगर आप आज भी बिना लक्ष्य के जिन्दगी जी रहे हो तो अब वो समय आगया है की आप को भी एक अपना लक्ष्य बना लेना चाहिए ताकि आपकी भी जिन्दगी नरक बनने से बच जाये 

अगर आपकी जिन्दगी में कोई लक्ष्य नहीं है तो आपकी जिन्दगी बिना पैट्रोल डीजल की गाड़ी जैसी है क्योकि गाड़ी चाहे कितनी भी सुंदर हो लेकिन वह बिना पैट्रोल डीजल के चल नहीं सकती हा आप धका देकर कुछ दुरी तक चला सकते है लेकिन एक दिन थक कर बैठ जाओगे इसी तरह आप बिना लक्ष्य के जिन्दगी जी रहे हो तो आप लोगो की नजर में तो सफल दिखोगे लेकिन आप अपनी नजर में सफल नहीं दिखोगे जबकि अच्छी जिन्दगी वही है जो अपनी खुद की नजर में सफल दिखे 
एक होता है जिन्दगी को काटना और एक होता है जिन्दगी जीना आपके ऊपर निर्भर करता है की आप जिन्दगी काटना चाहते हो या जिन्दगी जीना चाहते हो अगर आप जिन्दगी जीना चाहते हो तो ऐसे मत जिओ जैसे जिन्दगी आपको मिली हो बल्कि ऐसे जिओ जैसे जिन्दगी को आप मिले हो  जिस तरीके से एक घर बनाने के लिए एक योजना की आवश्यकता होती है उसी तरह जिन्दगी जीने के लिए एक लक्ष्य की आवश्यकता होती है 
मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है लक्ष्य के क्या फायदे है 
1.भले ही देर से सही लेकिन सफलता मिलती जरुर है 
अगर आप एक लक्ष्य बनाकर काम कर रहे है तो आपको सफलता भी जरुर मिलेगी भले ही देर से सही इसको हम एक अच्छे उदाहरन से समजते है एक बार एक इन्सान होता है उस इन्सान के घर के सामने वाले  घर में एक गधा रहता था उस आदमी का target था की जब तक वह उस गधे को नहीं देख लेता तब तक वह खाना नहीं खाता चाहे कुछ भी हो यह target उसके लिए असम्भव तो नहीं था लेकिन लोग मजाक जरुर उड़ाते थे चलो जो भी है 
कुछ दिन बाद की बात है की गधे का मालिक उस गधे के पीछे गाड़ी लगाकर नदी में मिटटी लेने के लिए चला गया आने में वह बहुत लेट हो गया तब तक वह इन्सान खाना नहीं खा रहा था काफी इंतजार करने के बाद भूख सहन नहीं हो रही थी और सामने के घर में चला गया यह पूछने की आपका गधा कहा पर है उन्होने बताया की नदी में लेके गये है मिटटी लेने के लिए इतनी सुनकर वह इन्सान नदी की तरफ चल दिया वहा पर जाकर देखा की गधे गाड़ी में मिटटी खोदकर डाली जा रही है अभी दोनों का सयोंग इस तरह बैठता है की जब गधे का मालिक मिटटी खोद रहा था उस वक्त एक सोने चांदी से भरा हुआ बर्तन दिखाई दिया और उसी वक्त उसको वह गधा दिखाई दिया और जोर से चिल्लाने लगा की मिल गया मिल गया मिल गया मिटटी भरने वाले ने सोचा की शायद इस सोने चांदी से भरा हुआ बरतन के बारे में बोल रहा है उसने तुरंत उसको बोला भाई हल्ला मत कर बेशक इसमें से आधा लेले उस इन्सान को आधा जेवर मिल गया 
जबकि उसका target था की वह गधे की सकल देखेगा 
2.आप कभी असफल नहीं हो सकते 
जीवन किसी भी मनुष्य के लिए आसान नहीं होता है जीवन में हर एक मोड़ पर संघर्स का सामना करना पड़ता है चाहे वह महान व्यक्ति क्यों ना उसने भी अपनी महानता की कीमत पहले अदा की है बल्ब निर्माता थॉमस एडिसन कभी भी अपने आप को असफल नहीं मानते वो मानते है उन्होंने 9999 बार बल्ब बनाने के तरीके सीखे थे यह उनका target था की उन्हें बल्ब बनाना ही है इसी प्रकार आप भी एक लक्ष्य बनाये ताकि आप भी असफल होने से बच सके 
3.उस काम के साथ आपका relation अच्छा होगा 
जब तक आप किसी से गहरा रिश्ता नहीं बनाओगे तब तक आपको उसके साथ काम करने में अच्छा महसूस नहीं होगा अगर आपका एक target है और उस target के साथ आपका अच्छा relation है तो आप उसको किसी भी हालत में प्राप्त कर लोगे जैसे एक माँ को बोला जाये आपको सडक पर बहुत तेज स्पीड में भागना है तो वह माँ अपनी छमता के अनुसार भागेगी लेकिन उसी माँ का बच्चा किसी बस में रह जाता है और बस चल देती है तो फिर वही माँ अपनी स्पीड से 4 गुना 5 गुना 10 गुना भाग लेती है और पूरी कोशिश करती है बस तक जाने की क्योकि अभी भागने में उसका एक गहरा relation है की उसका बच्चा बस में रह गया है क्योकि उस बच्चे के साथ उसका relation जुड़ा हुआ है माँ का target उस relation से जुड़ गया 
4.दिनचर्या अच्छी होगी 
आपको पता है आपका target क्या है और आप ही जानते हो की आपका target कैसे प्राप्त होगा और आपसे अधिक कोई नहीं जान सकता की आपको उस target को पाने के लिए कितनी महनत करनी पड़ेगी इन सबके अनुसार आप काम कर रहे है तो आपकी दिनचर्या बहुत अच्छी होगी यह एक लक्ष्य बनाने का फायदा है 
5.जैसा सोचोगे वैसा ही बनोगे 
target बनाने का एक और बहुत अच्छा फायदा है की आप जैसा सोचोगे वैसे ही आप बन जाओगे क्योकि आप जब अपने लक्ष्य का डिसीजन करते हो उस वक्त आपकी सोच अगर यह होती है की मुझे इस लक्ष्य को हर हाल में पाना है तो आप जरुर पाओगे अगर आप लक्ष्य का डिसीजन करते समय यह सोचते हो की कोशिश तो करता हु बाकि देखते है तो आप वैसे ही बन जाओगे 
अथवा लक्ष्य बनाते समय आप जैसा सोचोगे वैसे ही आप बन जाओगे 
6.सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम करना सीखोगे 
महान और सफल व्यक्ति हमेशा एक बात बोलते है की आप जो भी काम कर रहे है उसको आप सही समय और सही दिशा निर्देशन में करे आप को 100% सफलता मिलेगी लेकिन सही समय और सही दिशा निर्देशन में आप काम जब करोगे जब आपका target fix होगा अगर आपका लक्ष्य ही नहीं है तो आप सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम कैसे कर लोगे कभी हो ही नहीं सकता अगर आप हर काम को एक लक्ष्य बना कर कर रहे है तो आप सही दिशा निर्देशन और सही समय पर काम करना शीख जाओगे 
आप यहाँ से  यह भी पढना ना भूले 
1.लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
2.जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
3.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है 
4.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है 
5.आखिर सफलता का रहस्य क्या है  
7.subconscious mind तीव्र गति से काम करेगा 
एक होता है conscious mind और एक होता है subconscious mind दोनों में फर्क होता है conscious mind हमेशा खोज करता है तथा डिसाइड करता है लेकिन subconscious mind खोज किये हुए तथा डिसाइड किये हुए कार्य को तीव्र गति से संपन करता है अगर आपके पास एक लक्ष्य है तो आपका subconscious mind तीव्र गति से काम करेगा 
8.अगर आपका लक्ष्य साफ है तो रास्ते भी साफ नजर आयेंगे 
जिन्दगी की असली परिस्थितिया उन लोगो को क्या पता जिन्होंने कभी life में कोई लक्ष्य ही नहीं बनाया हो अगर आपके पास एक लक्ष्य है तो आपको हर मोड़ पर समस्या का सामना तो करना ही पड़ेगा लेकिन अगर आपका फोकस सीधा अपने लक्ष्य पर है तो समस्या आपको बिल्कुल दिखाई ही नहीं देगी क्योकि जिस तरीके से आपका ध्यान लक्ष्य पर होगा तो समस्या पर जायेगा ही नहीं इसलिए आपका लक्ष्य साफ है तो रास्ते भी साफ है 
9.आपके concentration और energy का लेवल बराबर होगा 
concentration होती है एकाग्रता और energy होती है शक्ति ! अगर आपके पास कोई लक्ष्य है तो concentration और energy का लेवल बराबर हो जाता है इसको एक बहुत अच्छे उदाहरन से समजते है...........
आप किसी लाईब्रेरी में जाते हो बुक्स पढने के लिए लेकिन आपका कोई लक्ष्य नहीं था की कोनसी books पढनी है और आप जाकर कोई एक books उठा लेते हो पढने के लिए लेकिन आप उस books को ध्यान से concentration से नहीं पढ पाओगे लेकिन आपका target है की आपको कोनसी books read करनी है तो आपकी concentration बहुत अच्छी होगी    
10.मन में उठने वाली दुविधा ख़त्म हो जाती है 
इन्सान जो भी सोचता है वह सब कुछ इन्सान के मन में होता है माना की आप एक लक्ष्यहिन् इन्सान हो आपके पास कोई लक्ष्य नहीं है आप रात को सोकर सुबह उठते हो लेकिन उठकर क्या करना है यह आपको पता नहीं है तो आपके  मन में हमेशा दुविधा ही उठेंगी 
इसके अलावा अगर आपका एक मजबूत लक्ष्य है आपको यह पता है की सुबह जागने के बाद मुझे क्या करना है तो आपका ध्यान सीधा अपने target पर ही जायेगा मन में उठने वाली सारी दुविधा खत्म हो जाएगी 
11.कम समय में जिन्दगी जीने का अनुभव मिलता है 
वैसे तो लोग बोलते है की मेरी उम्र 30 साल है मैंने दुनिया देखी है मुझे इस दुनिया का अनुभव है और में जिन्दगी जीना तरीके से जानता हु लेकिन जिन्दगी का असली अनुभव तो उस इन्सान को है जिसने बहुत कम समय में किसी लक्ष्य को हासिल किया हो और उस लक्ष्य को हासिल करने का अनुभव ही जिन्दगी जीने का अनुभव होता है 
इसकी प्राप्ति केवल लक्ष्य निर्धारित करने से ही होती है 
12.अगर आपके पास लक्ष्य है तो आप आपकी नजर में सफल इन्सान हो 
अगर आप यह सोचते हो की में बस लोगो की नजर में सफल बन जाऊ वही काफी है तो आप बहुत घटिया हरकत अपने ही साथ कर रहे हो असली सफल इन्सान तो वह है जो अपनी खुद की नजर में सफल हो आप बिना कोई target बनाये अच्छा काम कर सकते हो और लोगो की नजर में सफल भी दीख सकते हो लेकिन आप अपनी नजर में सफल तभी बनोगे जब आप कोई target लक्ष्य बनाकर सफलता हासिल करोगे 
13.आपको हर एक opportunities में सफलता नजर आएगी 
आपके पास अगर एक लक्ष्य है तो आपको हर एक opportunity में सफलता नजर आएगी इसको एक बहुत अच्छे उदाहरन से समजते है....
आपने एक target बनाया की आपको एक school खोलनी है उससे पहले आपको एक opportunity मिली किसी school में teaching कराना है तो इस opportunity को नहीं ठुकरा सकते क्योकि आपको experience मिलने वाला है लेकिन अगर आपका यह target ही नहीं होता तो आप इस opportunity को ठुकरा देते 
14.आपकी जिन्दगी का vision आपके सामने होगा 
जिन्दगी में हमेशा दो चीजे बहुत मायने रखती है एक है region और एक है vision 
आप कोई target बनाते है वह आपका vision है और आप ने यह target क्यों बनाया यह आपका region है जब आप सुबह बिस्तर छोड़ते हो और भगवान को शुक्रिया करते हो की हे भगवान आपको बहुत बहुत सुक्रिया की मेरा vision पूरा करने के लिए आप ने मुझे एक दिन और दिया अगर आपकी जिन्दगी में कोई लक्ष्य होता ही नहीं तो आपका vision आपकी आँखों के सामने नहीं होता  
15.आपकी सोचने की छमता अधिक होगी 
एक आम इन्सान कितना सोच सकता है और किस दिशा में सोच सकता है यह उसकी सोचने की छमता पर निर्भर करता है आप जितना गहरा सोचोगे उतनी ही छमता अधिक होगी 
जब आपके पास एक लक्ष्य निर्धारित है और उसे आप पाना चाहते हो तो उसके लिए आपको कुछ सोचना भी पड़ेगा इसलिए एक लक्ष्य निर्धारित करने से आपकी सोचने की छमता अधिक हो जाती है 
आप यहाँ से इन्हें भी पढना ना भूले 
1.15 ways to make positive thinking 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.100 motivation status in hindi with image 
6.power of system 
7.words have power 
8.think out side of the box 
9.abcd वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता 
10.personality को develop कैसे करे 
11.management सीखने का आसान तरीका 
12.शेरो की दोस्ती शेरो के साथ जानिए कैसे 
13.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
14.मोहम्मद रफ़ी सफलता की कहानी 
15.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
16.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजा सकते है 
17.कोई भी काम खानदानी नहीं होता अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 


दोस्तों मेरी जिन्दगी में लक्ष्य क्यों जरुरी है यह पोस्ट बहुत ही कठोर महनत और संघर्ष से तैयार की गयी है और में आशा करता हु की आप आज से ही अपनी जिन्दगी के लिए target बनालोगे 
दोस्तों आप इस पोस्ट को उन लोगो को जरुर share करना जिसकी सफल जिन्दगी में आपका भी हाथ हो जाये 
अगर आप चाहते हो तो अभी share करो 

लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे

1 comment :
आपके पास कोई लक्ष्य है और आप उस लक्ष्य को पाना चाहते हो लेकिन किसी समस्या की वजह से आप अभी अपने लक्ष्य से दूर हो तो अपने उस उद्देश्य को याद करे जिसमे आपने सफलता पाई है ज़रा याद करो किस तरह रास्ते में रुकावट आई थी और आपने कठोरता से उस समस्या का समाधान किया था और रास्ते से उस समस्या को हटा दिया था 
How to encourage yourself to achieve goals-ways to achieve your goals

this is your dream

लक्ष्य पाने के लिए खुद को प्रोत्साहित कैसे करे 
1.आपका लक्ष्य क्या है 
अगर आपने अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया है तो समजो आपका लक्ष्य 40% आपको मिल गया है क्योकि लक्ष्य को पाने के लिए पहला कदम होता है लक्ष्य को निर्धारित करना जैसे आपको अपने घर से किसी दूसरी सिटी में जाना है तो आपका लक्ष्य है वह सिटी जिसमे आपको पहुचना है लेकिन अगर आप घर से चलने से पहले आपको पता ही नहीं है की आप कहा जाओगे तो लक्ष्य हीन हो इसी तरह आप एक बार अपना कोई भी लक्ष्य निर्धारित करे 
2.अपने लक्ष्य को लिखो 
लक्ष्य निर्धारित करने के बाद उस लक्ष्य को एक एसी जगह पर लिखो जहा पर आप सबसे ज्यादा रहते हो ताकि आपकी आँखों के सामने आपका लक्ष्य रहे दुनिया के अमीर लोगो में सुमार बिल ग्रेट्स कहते है की the goal written is the power लिखे हुए target में शक्ति होती है अगर आपने अपना target लिख लिया तो दुनिया का कोई भी तूफान नहीं रोक सकता उसको पाने से इसका एक और फायदा होता है जब आप अपने लक्ष्य से भटक जाते हो तो आप की आँखों के सामने आपका लक्ष्य दिखेगा ताकि आप भटक ना सको 
3.फिर यह निर्धारित करो की आप उस लक्ष्य को क्यों पाना चाहते हो 
अगर आप यह भूल जाते है की आप काम क्या कर रहे हो तो कोई बात नहीं है लेकिन अगर आप यह भूल जाते है की आप काम क्यों कर रहे हो तो आप बहुत बड़ी गलती कर रहे हो 
जब आपने लक्ष्य निर्धारित किया था उसकी भी एक वजह थी अब जिस वक्त आप अपने लक्ष्य से भटक जाते हो तो उस वजह को याद जरुर करना आप कभी भी अपने लक्ष्य से नहीं भटकोगे 
4.विस्वास रखे की आप इसे पा सकते है 
आप हमेशा विश्वाश रखे की आप उस काम को कर सकते है और आपसे अच्छा कोई कर भी नहीं सकता तो आप जरुर उस काम को कर सकते है किसी ने सही कहा है......................
मंजिल बहुत जिद्दी होती है मिलती कहा नसीब से है 
मगर वहा तूफान भी हार जाते है जहा कस्तिया जिद्द पर होती है 
भरोसा इश्वर पर करोगे तो जो तगदिर में लिखा है वही पाओगे 
मगर भरोषा अपने आप पर करोगे तो इश्वर वही लिखेगा जो आप चाहोगे 
5.लक्ष्य को पाने के लिए योजना तैयार करो 
आपको एक योजना तैयार करनी है जिसमे आप यह डिसाइड करोगे की मुझे क्या काम करना है कब किससे मिलना है काम कैसे करना है और कितना काम करना है यह एक योजना है जिससे आप अपने लक्ष्य के लिए काम कर सकते हो 
6.SMART फार्मूला का उपयोग करे 
एक होता है hard work और एक होता है smart work दोनों में फर्क होता है एक अच्छी सोच का hard work करने वाला इन्सान कभी सपनो के बारे में नहीं सोचता और smart work करने वाला dream को पूरा करने के लिए महनत करता है 
आखिर क्या है smart work 
दुनिया के सफल लोगो ने एक फार्मूला दिया जिसका नाम है smart फार्मूला 
S=specific  = निश्चित करना 
M=Measure weight = माप तोल 
A=achieve = प्राप्त करना 
R=Region = कारन 
T=time = समय 
smart फार्मूला का अर्थ होता है की कोई भी काम उसकी मात्रा निश्चित करो कितनी और क्यों चाहिए तथा कब चाहिए 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
7.बड़े लक्ष्य को छोटे छोटे टुकडो में बाँट लेना चाहिए 
जब इन्सान एक पहाड़ जैसे लक्ष्य को देखता है उस समय वह घबरा जाता है उस बड़े लक्ष्य को देखकर उसके बजाये आप उस बड़े लक्ष्य को टुकडो में बाँट सकते हो जिससे आपका काम जल्दी हो जाये 
8.भय से जुडी हुयी हर एक सोच को ख़त्म कर दो 
किसी भी काम को start करने से पहले एक डर पैदा होता है और वह डर यह भी हो सकता है फ़ैल होने का यह डर यह भी हो सकता है loss होने का इत्यादि 
आपकी जिन्दगी में जितने भी डर है उन सबको खत्म करो 
9.हमेशा positive सोचे 
आप किसी पार्टी में जाते है वहा पर आपको आधा गिलाश cold drink मिली अब आपकी सोच के उपर आधारित है की आप क्या सोचते हो या तो आपको सिर्फ आधा गिलाश ही cold drink मिली या फिर कम से कम आधा गिलाश cold drink मिली आप क्या सोचते हो यह आपके ऊपर है 
इसलिए आप हमेशा positive सोचे 
"हमारी सोच हमारे ऊपर निर्भर करती है हमारे साथ जो कुछ घटता है उसका हमारे व्यक्तित्व में योगदान 10% होता है हम किस तरह प्रति कार करते है उसका योगदान 90% है " chak svindol 
10. नकारात्मक लोगो को अपनी जिन्दगी से निकाल दो और सकारात्मक लोगो के पास चले जाओ 
अगर आपसे कोई यह बोले की आप इस काम को नहीं कर सकते तो इस दुनिया का यह सबसे बड़ा पाप है अगर आपको कोई यह कहे की आप इस काम को आसानी से कर सकते हो और आप इसमें जरुर सफल भी बनोगे तो यह इस दुनिया का सबसे बड़ा धर्म है 
आप अपनी जिन्दगी से उन लोगो को निकाल दो जो इस तरह का पाप करते है बस उन लोगो के साथ रहना start करदो जिनकी सोच हमेशा positive रहती है और वो positive लोगो की भीड़ आपको धक्का मार मार कर सफल बना देंगे 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 
11.लोग क्या कहेंगे इस डर को ख़त्म करदो  
सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग यह कहावत काफी प्रचलित है लेकिन आपको यह बीमारी नहीं है 
लोगो का काम है कहना लोग जब भी कहेंगे जब आप असफल हो और लोग जब भी कहेंगे जब सफल बन जाओगे बस उनके word बदल जायेंगे इसलिए आपको यह डर ख़त्म कर देना चाहिए की लोग क्या कहेंगे 
अगर आपमें अपमान सहने की छमता है तो आपमें सफल होने की भी छमता है 
12.किसी को अपना आदर्श बनाओ make a your ideal 
इन्सान जब कोई भी सपना देखता है उसकी एक खास वजह यह भी होती है की उसने ऐसा कोई और इन्सान देखा होगा जिसे देख कर लगा की मुझे भी ऐसा ही बनना है और ऐसा होना भी चाहिए 
अपनी जिन्दगी में एक अपना ideal भी होना चाहिए जिससे में यह शीख सकू की इसने कैसे problem face किया और आजा सफल व्यक्ति बना 
में मेरे ideal की बात करता हु तो हिंदी फिल्मो के star अमिताभ बच्चन है जिनसे मुझे हमेशा प्रेरणा मिलती है 
13.हमेशा शारीरिक और मानसिक स्वस्थ रहे 
आप किसी भी काम में अपना 100% जब तक नहीं दे सकते जब तक आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ नहीं हो आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होने के लिए आप समय पर doctor से सलाह ले सकते है 
14.लक्ष्य पर फोकस रखे 
Focus का अर्थ होता है 
F = Follow  पीछा करना 
O = one एक 
C = cover  सपना 
U = united जब तक 
S = success सफलता 
हमें एक सपने का जब तक पीछा करना है जब तक हमें सफलता ना मिल जाये 
इस तरह अपने लक्ष्य पर फोकस करे 
15.हमेशा अपने आप को best समजे 
में इस काम को कर सकता हु यह आपका आत्मसम्मान है लेकिन सिर्फ में ही इस काम को कर सकता हु यह घमंड है 
हमें सिर्फ अपना आत्म सम्मान बनाये रखना है और यह सोचना है की i am the best and i am champion 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले 


उम्मीद करता हु दोस्तों आपको यह पोस्ट बहुत अच्छी लगी  प्लीज आप इस पोस्ट पर comment जरुर करे 
अगर आप भी चाहते हो अपने परिवार को सफल बनाना तो अभी उनको यह पोस्ट share करो अपने फ्रेंड को भी share करो 
धन्यवाद 

जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है

No comments :
how does our brain work
मानव मस्तिस्क 
जानिए हमारा दिमाग कैसे काम करता है 
मानव इस धरती का सबसे विकसित प्राणी है और मानव की सफलता का सबसे बड़ा कारन है विकसित दिमाग !!! क्योकि मानव का दिमाक और किसी जीवो की तुलना में बहुत अधिक विकसित है 
जब आप आपका मस्तिस्क प्रशिक्षित हो रहा होता है उस समय  रेक्टिकुलर activating system सुचारू रूप से संचालित हो रहा होता है 
मस्तिस्क का सोचने का तरीका क्या है यह कैसे काम करता है 
मस्तिस्क हमेशा image में सोचता है ना की word में जब आपके सामने कोई नया शब्द आया या फिर आप किसी चीज को याद कर रहे हो तो आपका दिमाक उस चीज का तुरंत image create करके आपके सामने पेश करता है जैसे किसी ने बोला train तो आपके मस्तिस्क में तुरंत train की image तैयार हो जाती है अगर कोई आपसे मना भी करे की आपके सामने आपकी माँ की image नहीं आनी चाहिए लेकिन लाख मना करने के बावजूद भी मस्तिस्क में माँ की image आएगी ही आएगी 
दिमाग का एक भाग सूचनाओ और योजनाओ को इकठ्ठा करता है जो याद गार बनाये रखने के लिए आवश्यक है अगर आप ने अपने काम करने के कारण को सही रूप से परिभाषित नहीं किया है इसका मतलब अपने सपनो को साकार करने के लिए आपने अपने दिमाग को ठीक से काम नहीं लिया है 
जैसे कई बार हम किसी वस्तु को रख कर भूल जाते है और जरूरत पड़ने पर उस वस्तु को फिर से हेरते है और वह वस्तु हमें नहीं मिल पाती है और कमरे का कोना कोना छान लेते है और एक दुसरे के ऊपर चिल्लाते है अभी तो यही रखी थी अब क्यों नहीं मिल रही है इसका कारन है जब आपने उस वस्तु को रखा था उस वक्त आपने अपने दिमाग को ठीक से काम नहीं लिया 
किसी चीज को याद करने के लिए hippo campus को develop करना होता है 
अगर बच्चे के रहन सहन का वातावरण लड़ाई झगड़े का है तो बच्चे के दिमाग पर उसी तरह फर्क पड़ता है जिस तरीके से युद्ध में सैनिको पर पड़ता है 
आपके दिमाग का एक भाग बिल्कुल चुम्बक की तरह होता है जो सूचनाओ और अवसरों को आकर्षित करता है 
वैसे बोला जाता है की पुरुष का दिमाग महिला के दिमाग से 10% बड़ा होता है लेकिन अच्छी यादगार के लिए छोटा बड़ा दिमाग मायने नहीं रखता  है क्योकि आइन्स्टीन का दिमाग आम आदमी के दिमाग से 10% छोटा था जो की जर्मनी के विश्व प्रसिद्ध सैधांतिक भोतिकी थे 
आप यहाँ पर यह भी पढ सकते हो 
1.100 motivation status in hindi with image 
2.15 good habit in student 
3.the best 5 good habit of student 
4.10 qualities of a good student 
5.words have power जानिए शब्दों की ताकत क्या है 
जानिए क्या वजह है जिनसे मानव दिमाग इतना विकसित हुआ   
1.दिमाग पुरे शरीर का मात्र 2% होता है लेकिन यह पूरी body का 20% खून और आक्सीजन अकेला उपयोग करता है और यह 2% का दिमाग 98% के शरीर को हैंडल करता है 
2.दिमाग का तेज चलने का कारन यह भी है की दिमाग में 86 बिलियन कोशिकाए होती है जो की अन्य शरीर से ज्यादा है 
3.दिमाग में 268 मील/घंटा की रफ़्तार से सूचनाये इधर उधर चलती है 
4.हमारा दिमाग 12-25 वाट बिजली उत्पन कर सकता है 
5.दिमाग में हर सेकेंड 1 लाख से अधिक केमिकल रियक्सन होते है और इसी कारन हमारा दिमाग काम करता है 
अगर दिमाग शरीर से निकले ग्लूकोज का उपयोग अधिक करता है तो नींद भी अधिक आती है 
दिमाग में किसी चोट का घाव नहीं पड़ता है लेकिन जब कोई किसी इन्सान को नकारता है उस वक्त शरीर पर लगी छोट से भी अधिक दर्द दिमाग को होता है 
जानिए दिमाक एक साथ एक से अधिक काम कैसे करता है
मानव प्रजाति का दिमाग एक साथ एक से अधिक काम कर सकता है एसा करना दिमाग के लिए आसान काम है जानिए कैसे 
आपने ऊपर दिया गया मानव मस्तिस्क का चित्र तो देखा ही होगा अगर नहीं भी देखा है तो जरुर एक बार और ध्यान से देखे जिसके अंदर काफी सारी चकरी दिखाई दे रही है जो की एक दुसरे से link है अगर यहाँ पर एक चकरी घुमती है तो सभी घुमने लगेंगी इसी तरह मानव का दिमाक भी है जब एक कोशिका काम करती है तो फिर 86 बिलियन कोशिकाए स्वत ही किर्या सील हो जाती है और उन सभी कोशिकाओ को हम अलग अलग काम में उपयोग कर सकते है बस जरुरत है आप एक बार कोई भी काम start करे 
इसी तरह की चकरी आपने किसी मोटर या किसी इंजन में देखी जरुर होगी जो एक से अधिक होती है और सभी एक दुसरे से link होती है जिनमे सप्लाई सिर्फ एक में दी जाती है लेकिन घुमती सभी है 
इसी प्रकार हम अपने दिमाग को एक साथ एक से अधिक कामो में उपयोग कर सकते है 
आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले  
1.सफलता के लिए पागलपन बहुत जरुरी है जानिए कैसे 
2.अकल बादाम खाने से नहीं ठोकर खाने से आती है जानिए कैसे 
3.ABCD वर्णमाला के हर एक अक्षर में छुपी है असली सफलता जानिए कैसे 
4.आखिर सफलता का रहस्य क्या है जानिए 
5.जो चाहोगे वही पाओगे जानिए कैसे 
6.आपकी माँ आपसे क्या उम्मीद करती है जानिए 
7.जीवन भी एक गणित है इसे सुलजाया जा सकता है जानिए कैसे 
8.कोई भी काम खानदानी नहीं होता है अपने आप चुनना पड़ता है जानिए कैसे 
9.अपने काम को किसी दूसरे के काम से बड़ा नहीं समजे हो सकता है नुकसान 
10.एक बार अपने दायरे से बहार आकर सोचो जरुर सफलता मिलेगी 

दोस्तों उम्मीद करता हु की आपको यह पोस्ट बहुत अच्छी लगी प्लीज आप भी अपने साथ अपने दोस्त भाई बहन या अपने परिवार को सफल बनाना चाहते हो तो उनको अभी इस पोस्ट को share करो 
धन्यवाद