New Hindi Kahani

एक और एक ग्यारह ही क्यों New Hindi Kahaniya

एक और एक ग्यारह ही क्यों New Hindi Kahani

यह कहानी एक New Hindi Kahaniya है यह story आपको motivate करने के साथ साथ आपको सामाजिक जीवन जीने के तरीके को develop करने में अहम भूमिका निभाएगी

New Hindi Kahaniya

एक ताकत वर हाथी घने जंगल में अपनी ताकत का पूरा फायेदा उठाते हुए पेड़ पोधो को तोड़ते हुए इधर से उधर भाग रहा था

लेकिन हाथी ने एक पेड़ ऐसा नस्ट कर दिया की जिस पर एक चिड़िया का घोंसला था

और जैसे ही हाथी ने उस पेड़ तो तोडा घोंसला निचे गिर गया और उसमे रखे हुए अंडे फूट गये साथ में बच्चे भी मर गये

चिड़िया के पास रोने के अलावा कुछ नहीं बचा

चिड़िया को रोते हुए देख वहा पर एक कठफोड्वी आई !

कठफोड्वी ने आते ही चिड़िया से रोने का कारन जानने की कोशिश की चिड़िया ने भी सच सच हाथी की करतूत सामने रख दी

कठफोड्वी बोली बहन चिड़िया रोने से कुछ नहीं होगा हमे कुछ करना चाहिए और उस हाथी को सबक सिखाना चाहिए

लेकिन चिड़िया ने बोला बहन हम तो छोटे छोटे जानवर है हम कैसे इतने बड़े हाथी को सबक सीखा सकते है

कठफोड्वी बोली बहन एक और एक ग्यारह होते है मेरा एक मित्र है भंवरा में उसके पास जाती हु वो हमे कुछ सुझाव दे सकता है

जैसे ही भंवरा को सारी दास्तान सुनाई भंवरा समज गया और बोला मेरा एक दोस्त है मेंढक वो कुछ कर सकता है

हम उसके पास चलते है ! अभी तीनो मेंढक के पास पहुच गये मेंढक ने पूरी रणनीति तैयार करी और सभी को अपनी अपनी जिम्मेदारी सोंपी

इस प्रकार हुए एक और एक ग्यारह

इतने में हाथी पेड़ पोधो को तोड़ता हुआ जा ही रहा था

पहली जिम्मेदारी थी भंवरे की वह अपनी जिम्मेदारी को निभाने लगा ! और हाथी के कान में जाकर मधुर आवाज में गुन गुनाने लगा

हाथी को बड़ा अच्छा लगा वह खड़ा होकर उसकी मधुर आवाज को सुनने लगा

दूसरी जिम्मेदारी कठफोड्वी की हाथी एक जगह पर खड़ा होकर भंवरे की मधुर आवाज को सुन रहा था ! इतने में कठफोड्वी ने हाथी की दोनों आँखों को निशाना बनाया और आँखों को फोड़ दिया

अभी हाथी अँधा होकर इधर उधर भटक रहा था ना कुछ खा सकता ना कुछ पी सकता

अभी हाथी को जबर दस्त प्यास लगने लगी

तीसरी जिम्मेदारी थी मेंढक की उसने अपनी साथी सभी मेंढक को एकत्रित किया और बोला आप किसी बड़े गहरे गड्डे पास टैटाना चालू करो

क्योकि जैसे ही हाथी को आपकी आवाज सुनाई देगी वह उधर ही आएगा

सभी मेंढक ने ऐसा ही किया जैसे जैसे हाथी मेंढक के झुण्ड के नजदीक आता गया आवाज और तेज आने लगी

जब हाथी बिल्कुल खड्डे के पास जैसे ही आया वह उस खड्डे में गिर गया और मर गया

सभी चारो मित्र खुश हुए

सच्चा मित्र कोन होता है

असली मर्द की पहचान

शीख

अकेली चिड़िया कुछ नहीं कर सकती थी लेकिन चारो ने मिलकर हाथी को मार गिराया

संघठन में शक्ति होती है

इसी कारन होते है 1+1 = 11

Final word

साथियों यह थी New Hindi Kahaniya जो संघठन में शक्ति को दर्शाती है !अगर आप कोई भी सुझाव मुझे देना चाहते है तो प्लीज comment box आपका इंतजार कर रहा है ! अधिक जानकरी के लिए visit करे www.indiahindinews.in

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: