how to make yourself positive thinking

सकारात्मक सोच कैसे बनाएं Positive Thinking Power

अपने आप की सकारात्मक सोच कैसे बनाएं Positive Thinking Power

एक आदमी के एक दिन में 35 हजार विचार आते हैं ! जिनमें से 65% नेगेटिव होते हैं और 35% पॉजिटिव होते है ! इंसान की सोचने की छमता बहुत तेजी से काम करती है ! आप अगर positive भी सोचते है ! लेकिन कुछ समय बाद एक ख्याल आता है उसमे सम्भावना होती है ! की आपकी positive सोच को negative में बदला जाये और ऐसा होना संभव है ! यही कारन होता है की इन्सान यह बोलता है ! की में जो काम सोचता हु वह होता नहीं है जानते positive thinking power क्या है

सकारात्मक विचार शक्ति को कैसे बढाये

अगर आप चाहे तो positive सोच को बरकरार रख सकते हो !आप चाहे तो negative सोच को भी positive बना सकते हो ऐसा होना आपकी सोच पर निर्भर करता है !

जैसे :-

काफी वैज्ञानिक मानते हैं कि जब कोई व्यक्ति सोचता है ! कि मुझे बुखार हो रहा है तो बुखार होने की 90% संभावना बन जाती है

और अगर आपको को बुखार भी आता है और आप सोचते हैं कि मैं अब ठीक हूं ! मुझे बुखार नहीं है, तो आपके ठीक होने की 90% संभावना बन जाती है

कैंसर रोगी तब तक नहीं मरता जब तक उसे पता नहीं चलता कि मुझे कैंसर है

सांप से खाए हुए हुए व्यक्ति के शरीर में जब तक जहर नहीं फैलता तब तक की खाए हुए व्यक्ति को यह पता नहीं लग जाये की मुझे सांप ने खाया है !

जैसे ही उसे पता चलता है कि सांप ने उसे खा लिया है ! उसके शरीर में तुरंत जहर फैल जाता है

मधुमेह diabetes की मात्रा में तेजी से वृद्धि का कारण यह है ! कि मधुमेह रोगी के दिमाग में हमेशा एक बात होती है कि मैं मधुमेह का रोगी हूं।

अगर हम सकारात्मक सोचते हैं, तो लगभग 90% बीमारियों का इलाज बिना डॉक्टर और बिना खर्च के किया जा सकता है। यही होती है Positive Thinking Power

सकारात्मक सोच बनाने के लिए 15 तरीके

1. खुद से प्यार करें

खुद से प्यार करना बहुत अच्छी बात है आप ने एक लड़की को लड़के से एक लड़के को लड़की से प्यार करते हुए देखा होगा या सुना होगा लेकिन आपने कितने लोगो को ऐसे देखा है की वह अपने आपसे प्यार करते है अगर जो इन्सान अपने आप से प्यार करता होगा वह कभी बीमार नहीं होगा उसकी कभी negative सोच नहीं होगी वह हमेशा सकारात्मक सोचेगा

2. हमेंशा मुस्कुराते रहो

हमेशा मुस्कारने का भी एक अलग अंदाज है आप जब किसी लड़की को देखते है मुस्कराती हुई जब आपको कितनी प्यारी लगती है लेकिन आप भी तो प्यारे बन सकते हो हमेशा मुस्कारते रहना चाहिए जिससे आप की body हमेशा तरोताजा रहेगी और negativity कभी दिमाग में आयेगी नहीं

3. फोकस करे

mind में negativity कब आती है जब आपके पास कोई काम नहीं है आप free बैठे हो आप अगर haryana से हो तो बेले बैठे हो फोकस करो किसी वस्तु पर आपका ध्यान इधर उधर जायेगा ही नहीं इससे आपकी सोच हमेशा सकारात्मक बनी रहेगी

4. कभी भी खुद को छोटा न समझे

नकारत्मक सोच आने का यह भी कारन होता की कई बार आप समज् लेते हो यह काम तो मेरे बस्खी बात नहीं है में इसको नहीं कर सकता

गलत बात

आप इसे कर सकते है आप कभी भी अपने आप को किसी दुसरे इन्सान से छोटा मत समजो आप हिम्मत करेंगे तो आपकी सोच स्वत ही सकारात्मक हो जाएगी

5. अपनी सोच बदलें

बोला जाता है जो आप कर रहे हो उसको पता नहीं आप कर पाओगे या नहीं लेकिन आप जो सोच रहे हो उसे आप जरुर कर पाओगे आप गलत सोच रखते हो तो गलत करोगे अगर आप अच्छी सोच रखते हो तो अच्छा करोगे इसलिए अपनी सोच बदलो

6.उत्पाद के समाधान में एक विशेषज्ञ बनें

इसका मतलब होता होता है आप हमेशा new create करने के बारे में सोचे अपने mind को creative mind बनाये ताकि आपकी सोच हमेशा positive रहे

7. अपनी जिम्मेदारी को समझें

कहते है < रात को जागने वाला हर शख्स आशिक नहीं होता जनाब कुछ जिम्मेदारी होती है उनके कंधे पर जो उन्हें सोने नहीं देती है > जिस इन्सान के पास जिम्मेदारी होती है वह इन्सान कभी गलत नहीं हो सकता नहीं गलत उसकी thinking होती है

8. सुबह जल्दी उठने की आदत बनाएं

पूर्व क्रिकेटर भारतीय कप्तान भारत को पहला विश्व कप जिताने वाले कपिल देव हमेशा बोलते है की सुबह 4 बजे जागने का time नहीं होता है 4 बजे तो मैदान में six मारने का time होता है

में मानता हु सुबह की नींदों का मजा ही कुछ और होता है लेकिन कसम से उन नींदों को त्यागकर जल्दी जागने का भी मजा कुछ और होता है

आप जागकर अपने आप को उर्जावान बना सकते हो आप भरपूर ऑक्सीजन ले सकते हो आप सुबह जल्दी जागकर अपने आप को शक्ति शाली बना सकते हो इनके अलावा अगर आप सुबह जल्दी जागते हो तो आपका मन एक दम positive रहेगा

9. सकारात्मक दृष्टिकोण बनाएं Create a positive attitude

आपकी सोच आपके दृष्टिकोण पर निर्भर करती है आप देखते कैसे हो आपका देखने का नजरिया क्या है ! बोला जाता है < आपकी नजर का इलाज हो जायेगा लेकिन आपके नजरिया का नहीं है > आपको अपकी नजरिया को ठीक करना पड़ेगा ” रास्ते में एक लड़का और एक लड़की जा रहे है पता नहीं आप क्या सोचोगे लेकिन शायद वो भाई बहन भी हो सकते है ” फर्क आपकी नजरिया का है जैसी आपकी नजरिया वैसी आपकी सोच होगी

10 किताबें पढ़ें

पुस्तक पढने से भी इन्सान की सोच सकारात्मक होती है लेकिन फर्क पड़ता है आप कोंनसी book पढ़ रहे हो में आपको कुछ पुस्तक के नाम बता रहा हु जिनसे पढने से आपकी सोच बहत अच्छी होगी

1. अवचेतन मन की शक्ति 2. सकारात्मक सोच की शक्ति 3.जैसा तुम सोचते हो 4.सोचिये और अमीर बनिए 5.लक्ष्य 6.रहस्य 7.बड़ी सोच का बड़ा जादू आदि

11. जल्दी सो जाओ

मैंने आपको बताया था की आपको जल्दी जागना चाहिए ! लेकिन जल्दी जागने के लिए आपको जल्दी सोना भी पड़ेगा जल्दी जागना और जल्दी सोना सकारात्मक सोच का प्रतिक है

12. वीडियो देखिए

आपको अच्छी अच्छी video भी देखनी चाहिए

13. अपनी पसंद का गाना सुनें
14. अपनी जरूरत के अनुसार खाएं
15. अपने आप को व्यस्त रखें

में ऊपर 👆👆👆 दिए गये ( 13.14.15.) points को परिभाषित नहीं करूँगा ! क्योकि आप भी जानते है आपकी पंसद का गाना सुनने से कैसी फिलिंग आती है ! अपनी जरूरत के अनुसार खाने के क्या फायेदे है अपने आप व्यस्त रखने के क्या फायेदे है ! लेकिन इतना जरुर बताऊंगा की ऐसे करने से भी आपकी सोच एक दम positive हो जाती है

आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले

Final Word

साथियों इस पोस्ट में सकारात्मक विचार शक्ति को कैसे develop करने की टिप्स बताई जिसका टाइटल था positive thinking power उमीद करता हु आपको बहुत पसंद आया आप कोई भी सुझाव मुझे देना चाहते है तो comment box आपका इंतजार कर रहा है अधिक जानकारी के लिए visit करे www.indiahindinews.in

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *