Hindi story of mother's job

जो कितनी भी चले मगर थकती नहीं Hindi story of mother job

Hindi story of mother job

जो कितनी भी चले मगर थकती नहीं Hindi story of mother job

साथियों अगर आपको बहुत ज्यादा motivation की जरुरत है ! तो आप सीधे अपने घर की रसोई में चले जाओ वहा आपको एक इन्सान मिलेगी जो रात दिन मेहनत करके सिर्फ आपकी कामयाबी की दुआ मांगती नहीं थकती और वो इन्सान है माँ

यह भी है की माँ काम करती इसलिए भी नहीं थकती की उसको फ़िक्र अपने खुद के पेट की नहीं फ़िक्र अपने बेटा बेटी के पेट की है !

माँ को धूप इसलिए नहीं लगती ताकि वो हम को छाया में सुला सके

माँ ईश्वर है !

जरुर माँ वो साज है जिसकी वजह से हर गीत अधुरा है माँ वो विस्वास है जो कभी नहीं टूटता माँ वो प्यार है जिसमे कभी धोका नहीं मिलता !

मैंने ईश्वर को देखा नहीं है लेकिन जरुर वो मेरी माँ के जैसा ही होगा !

जिस तरह से ईश्वर में एक साथ हजारो काम करने की शक्ति होती है उसी तरह मेरी माँ भी एक साथ सभी काम कर लेती है !

अगर मेरे घर में किसी इन्सान को रात भर जागने की जरुरत पड़े तो यह काम सिर्फ मेरी माँ ही कर सकती है !

मेरे घर में एक सदस्य ऐसी भी जिनके दर्जनों हाथ सैकड़ों मस्तिष्क है और वो मेरी माँ है !

अगर मेरी नजर में जिस इन्सान ने सबसे ज्यादा दर्द सहन किया है वो मेरी माँ है !

मेरे बीमार होने पर दवाई चाहे डॉक्टर ने दी लेकिन में स्वस्थ मेरी माँ की वजह से हु हुआ था !

आज में अच्छा खाना खा लेता हु ! लेकिन सबसे पोस्टिक और स्वादिस्ट खाना मेरे माँ के हाथ का ही होता है !

अगर कोई इन्सान रोबोट और मशीन की बराबरी कर सकता है ! तो सिर्फ वो मेरी माँ है !

इतिहास गवाह है अगर मेरे घर में कोई चीज गुम हो गयी तो उसे ढूढने में सिर्फ मेरी माँ को ही सफलता मिली है !

Hindi story of mother's job

यह चित्र एक माँ के जीवन को बखूबी बयान कर रहा है !

Hindi story with moral

दोस्तों माँ एक प्रक्रति के जैसी होती है जो खुद के लिए कुछ नहीं लेती सिर्फ अपनी सन्तान को देने की इच्छा रखती है !

अगर मेरी जिन्दगी में मेरा सबसे ज्यादा इंतजार किया है ! तो वो मेरी माँ ने किया है !

आखिर शब्द यही कहना चाहूँगा की अगर मेरी किस्मत लिखने का हक मेरी माँ को होता तो शायद मेरी जिन्दगी में एक भी गम नहीं होता !

मेरी माँ के हर अंग में जादू

जब मेरी माँ सब्जी काटती है चाकू की धार कितनी में पैनी हो लेकिन मेरी माँ के जादू के सामने कुछ भी नहीं है ! मेरी माँ ऊँगली के इशारे पर फिर भी सब्जी काटती है !

अगर घर में कलेश हो या घर में गुस्सा मेरी माँ का जादू उसे तुरंत खत्म कर देता है !

आप यहाँ से यह भी पढना ना भूले

सफलता के लिए बहरापन

निरंतर अभ्यास ही सफलता की कुंजी है

सकारात्मक सोच का परिणाम

बड़ी दुआओं से पाया है बेटा तुझे

खुद से हारा नहीं ये दुनिया क्या हरायेगी

Final Word

उम्मीद करता हु आपको यह लेख आपको बहुत पसंद आया

अगर आप भी कोई कहानी अपने नाम और फोटो के साथ यहाँ पर पब्लिश करना चाहते है ! तो हमें mekhrajbairwa@gmail.com पर अपना नाम फोटो और कहानी भेजे हम पब्लिश करेगे !

Hindi story of mother job में बस ईतना ही | धन्यवाद |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *