Motivational Story in Hindi

असली मर्द की पहचान Motivational Story in Hindi

असली मर्द की पहचान Motivational Story in Hindi

दोस्तों आज की कहानी है Motivational Story in Hindi और इस कहानी का शीर्षक है असली मर्द की पहचान जो की एक प्रेरणा दायक कहानी है जीवन में बदलाव लाने वाली कहानी है आप इस कहानी को अपने परिवार के साथ बैठकर भी पढ़ सकते हो

सारी दुनिया उसी का गुन गान करती है जो मुस्कराना जानता है ! और रोशनी भी वही कर सकता है जो शमा जलाना जानता है

प्रेरणा दायक कहानी

एक बहुत ही बलवान और शक्ति शाली राजा था ! उसके पास इतना धन था की उस राजा को लगता की मेरी आने वाली सात पीडी बैठ कर भी खाए तो भी कम नहीं होगा

और उस राजा की रसोई का सामान इतना था ! की उसे लेजाने के लिए 300 ऊंट चाहिए थे ! और उस रसोई को सँभालने वाले लोगो की संख्या थी 200 से भी अधिक थी

यहाँ से कहानी में बदलाव आया

लेकिन एक दिन उसकी जिन्दगी में एक ऐसा दिन आया की राजा का सब कुछ लुट गया

राजा को एक बार अपने विपक्षी राजा से युद्ध करना पड़ गया ! और हुआ यह की राजा इस युद्ध में हार गये !

और दूसरे राजा ने इस राजा को बंदी बना लिया

उसी दिन राजा को भूख लगी और अपने बचे हुए एक रसोइए से बोला मुझे कुछ खाने के लिए मिलेगा

रसोइया के पास सिर्फ एक मांस का टुकड़ा बचा हुआ था ! उसने उसे भगोने में उबलने के लिए रख दिया !

और रसोइया जंगल की ओर गया कुछ फल लेने के लिए

लेकिन पीछे से मांस की दुर्गन्ध को देखकर एक कुत्ता आया !

उस कुत्ते ने मांस के टुकड़े को खाने के लिए अपना मुह भगोने में डाला

हुआ यह की उस भगोने का आकर छोटा होने के कारन कुत्ते का मुह उसी में अटक गया

कुत्ते के हजारो प्रयास के बाद भी वह अपना मुह भगोने से नहीं निकाल पाया ! आखिर कुत्ता उस भगोने को गर्दन में फंसा कर ले गया

यह देख कर बंदी राजा को बहुत तेज हंसी आ रही थी

फिर मंत्री ने पूछा क्या बात है बंदी राजा

एक तो आपको बंदी बना रखा है ऊपर से आपको हंसी आ रही है

राजा बोला

मुझे हंसी इसलिए आ रही है की कल तक तो मेरा रसोई का सामान इतना था की उसे ले जाने के लिए 300 ऊँटो की जरुरत थी

और आज का दिन ऐसा है की एक कुत्ता ही मेरा रसोई का सामान ले जाने के लिए काफी है

अब बात आती है असली मर्द कोन है

जो इन्सान इतने दुःख में भी हंस सकता है उससे अच्छा मर्द इस दुनिया में नहीं है

क्या शीख मिलती है

साथियों जब सुखी जीवन होता है हम हँसते खेलते रहते है लेकिन असली मर्द बनना चाहते है ! तो दुःख में हँसना शीखो !

में बोलता हु भगवान भी सर्मिन्दा हो जायेगा और सोचने लगेगा यह तो अजीब इन्सान है ! यह दुःख में भी हँसता है अब इसे दुःख नहीं देना चाहिए

साथियों जब हारा हुआ खिलाडी जीतने वाले के सामने थोडा सा मुस्करा देता है तो जीतने वाले खिलाडी की आधी ख़ुशी गायब हो जाती है

खरगोश कछुआ की दूसरी कहानी

Final Word

साथियों यह प्रेरणा दायक कहानी Motivational Story in Hindi जिसका शीर्षक है असली मर्द की पहचान ने मेरी जिन्दगी में बहुत बड़ा बदलाव किया और आज में चाहे कितना भी मानसिक संतुलन खो दू लेकिन हमेशा हँसता रहता है आप को यह कहानी कैसी लगी आप जरुर comment करे अधिक जानकरी के लिए visit करे www.indiahindinews.in

1 thought on “असली मर्द की पहचान Motivational Story in Hindi”

  1. Pingback: शिक्षा की अनोखी शक्ति Education Motivational story in Hindi - Mekhraj Bairwa

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: