पारिवारिक मोटिवेशनल कहानी Family Motivational story in Hindi

Family Motivational story in Hindi

Family Motivational story in Hindi for success

ऐसा माना जाता है की किसी भी इन्सान को मिली हुई कामयाबी , सफलता या ख़ुशी में अपने परिवार की बहुत बड़ी भूमिका होती है ! परिवार दुनिया का मात्र एक ऐसा शब्द है जो हर आत्मा को ख़ुशी , सुरक्षा और विश्वास प्रदान करता है !

अपने परिवार के साथ समय व्यतीत करना हर दिन त्यौहार की अनुभूति कराता है ! क्योकि जिस तरह जहा जहा प्रकाश होता है वहा वहा सूर्य की किरण जरुर होती है ! उसी तरह जहा प्रेम होगा वहा परिवार जरुर होगा !

परिवार उस वक्त खत्म हो जाता है जब एक इन्सान अपनों को गिराने की प्लानिंग गैरो से लेता है ! एक परिवार में पिता ज्ञान की खान तो माँ ममता की मूरत और भाई घर की जान तो बहन घर का सम्मान होती है ! इन सभी का घर में नहीं होना दुर्भाग्य की बात होती है !

एक समय की बात है एक लड़की और उसके पापा नदी पार कर रहे थे ! धीरे – धीरे नदी का बहाव तेज हो रहा था ! बेटी ने पापा का हाथ कस के पकड रखा था ! जैसे – जैसे दोनों पापा – बेटी नदी में आगे चलते जा रहे थे वैसे – वैसे नदी का बहाव तेज होता जा रहा था !

बेटी बोली पापा आप मेरा हाथ पकड लो ! पापा बोला बेटा आप मेरा हाथ पकड़ो चाहे में आपका हाथ पकडू एक ही बात है ! आपने मेरा हाथ पकड रखा है चिंता मत करो बस हाथ छोड़ना मत !

बेटी बोली बस पापा यही तो फर्क है में आपका हाथ छोड़ सकती हु लेकिन कितनी भी मुसीबत हो आप मेरा हाथ नहीं छोड़ सकते !

Family Motivational story in Hindi

परिवार एक पतंग रूप डोर मोटिवेशनल हिंदी कहानी

एक दिन पिता जी अपने बेटे को पतंग उड़ाना सिखा रहे थे ! जैसे – जैसे पतंग आसमान की तरफ ऊँची ऊँची उड़ रही थी ! वैसे ही बेटा बहुत खुश हो रहा था ! कुछ देर बाद जब पापा की पतंग आसमान में उपर की तरफ नहीं जा रही थी ! तो बेटा जोर से चिल्लाया !

पापा यह धागे की डोर पतंग को उपर नहीं जाने दे रही है ! आप इस धागे को काट दो ! जब यह पतंग बहुत ऊँची उड़ जाएगी !

पिता ने एक क्षण बाद पतंग की डोर को हँसते हुए तोड़ दिया ! लेकिन पतंग तो नीचे आ गई ! यह देख कर बच्चा बहुत हैरान हुआ ! उसके बाद पापा ने समझाया की बेटा जिन्दगी का सार भी यही है ! हम जब किसी मुकाम पर होते है ना तब हमे भी ऐसा ही लगता है की कोई न कोई हमे उपर उठने से रोक रहा है ! जैसे हमारा घर परिवार माँ बाप रिश्तेदार आदि !

और हम पतंग की डोर की तरह आजाद होकर वापिश नीचे गिरना चाहते है ! अगर तुम भी अपने परिवार रूपी डोर से दूर भागोगे तो तुम्हारा भी यही हाल होगा !

आप यहा से यह भी पढना न भूले

एक गिलास लस्सी ने जीना सिखाया

रचनात्मकता हिंदी कहानी

शिक्षा की अनोखी शक्ति

माँ की जिज्ञासा हिदी कहानी

समुद्र और हवा की बात

सीख :-

परिवार के बिना जिन्दगी अधूरी सी होती है ! हमे परिवार से कभी अलग नहीं होना चाहिए ! मानता हु की जो इन्सान परिवार को जोड़कर रखता है वही इन्सान सभी को चुभता है !

Family Motivational story in Hindi आपको कैसे लगी हमे comment बॉक्स में जरुर बताये !

Mekhraj2001

Mekhraj Bairwa is a very good motivational speaker and writer blogger you tuber skill development india hindi news today news aaj ki taja khabar news hindi me breaking news digital services personalty development today history hindi kahani new kahaniya

Leave a Reply